पीले दांतों को सफ़ेद बनाने के लिए अपनाएं ये तरीके

पीले दांतों को सफ़ेद बनाने के लिए अपनाएं ये तरीके | 13 Home Remedies for Yellow Teeth In Hindi

Spread the love

पीले दांतों को सफ़ेद बनाने के लिए अपनाएं ये तरीके Home Remedies for Yellow Teeth In Hindi

सुन्दर स्माइल सभी लोग चाहते हैं क्यूंकि एक खूबसूरत मुस्कान आपकी पर्सनालिटी में चार चाँद लगा देती है। जब भी हम बोलते हैं या हँसते हैं तो सामने वाले की नजर सबसे पहले हमारे दांतों पर ही जाती है।

सुन्दर स्माइल के लिए सफ़ेद और चमकदार दांतों का होना बहुत जरूरी है। जिन लोगों के दांत पीले होते हैं वो खुलकर हंसने और बोलने में शर्मिंदगी महसूस करते हैं।

बचपन में हम सभी के दांत सफ़ेद ही होते हैं लेकिन उम्र बढ़ने के साथ हमारे दांतों का रंग पीला, भूरा और कई बार तो काला भी होने लगता है।

यदि आप भी अपने पीले दांतों से परेशान हैं तो अब घबराने की आवश्यकता नहीं है क्यूंकि आज हम आपको ऐसे घरेलू तरीके बताएंगे जिनसे आपके दांत मोतियों जैसे सफ़ेद हो जाएंगे। लेकिन उससे पहले जान लेते हैं दांतों के पीले होने का क्या कारण है।

दांतों की सड़न और दर्द को करें दूर बस इन आसान घरेलू तरीकों से

दांतों में पीलेपन का कारण

दांतो के पीले होने के कुछ निम्लिखित कारण हैं, आइये जानते हैं –

1दांतों की सबसे ऊपरी परत enamel का घिस जाना
2पेट में अधिक एसिडिटी होने के कारण भी दांत पीले होते हैं
3दांतों में calculus लेयर का जम जाना
4चाय, कॉफ़ी, कोल्ड ड्रिंक्स का अधिक मात्रा में सेवन करना
5धूम्रपान करने की वजह से भी दांत पीले होते हैं
6ज्यादा मात्रा में दवाइयों का सेवन करना
7उम्र बढ़ने के साथ भी दांत कमजोर और पीले होते हैं
8जेनेटिक्स कारणों से
9दांतो की अच्छे से सफाई न करना

पीले दांतों को सफ़ेद बनाने के लिए अपनाएं ये तरीके

दांतों को सफ़ेद और चमकदार बनाने के लिए अपनाएं बहुत आसान और घरेलू तरीके –

मीठा सोडा

आधा चम्मच मीठा सोडा लें और उसमें 4-5 बूँदें नीम्बू के रस की निचोड़ें। फिर ब्रश की मदद से दांतों को साफ़ करें। इस उपाय से जितनी मर्जी पुरानी जमी मैल हो, वो भी साफ़ हो जायेगी।

नोट – यदि आपको लगे कि पहले दिन ही दांत साफ़ हो गए हैं तो महीने में 1 बार ही प्रयोग करें और यदि पहली बार में साफ़ नहीं हुए तो महीने में 3 बार करें।

हल्दी

नमक और हल्दी को आधा चम्मच लेना है और अच्छे से मिक्स कर लें, अब इसमें 5-6 बूँदें सरसों के तेल की डाल दें और फिर एक बार मिक्स कर लें। इससे सुबह और रात को सोते समय अपने दांतो पर ब्रश करें। इसे आप डेली भी प्रयोग कर सकते हो। दांतो में होने वाली झनझनाहट, पीलापन और pyorrhea को दूर करने के लिए रामबाण नुस्खा है।

लहसुन

लहसुन में पाया जाने वाला thiosulphonate न सिर्फ दांतो को सफ़ेद करता है बल्कि कीड़ा लगने से भी बचाता है। आपको 4 लहसुन की कलियों को छीलकर अच्छे से मैश कर लेना है और इसके साथ 1 चुटकी नमक और थोड़ी-सी टूथपेस्ट मिला लेनी है। इसे अपने दांतों पर ब्रश की सहायता से लगाएं और 2 mint बाद कुल्ला कर लें। कुछ ही दिनों में दांतों के पीलेपन से छुटकारा पाएं। साथ ही जिनके मसूड़े फूल गए हैं, उनके लिए भी ये बहुत उपयोगी है।

नारियल तेल

1 बड़ा चम्मच नारियल का तेल लेकर 10-15 मिनट तक पूरे मुंह में अच्छी तरह घुमाएं, फिर इसे थूक दें। इसे oil pulling कहते हैं। ऐसा सुबह-शाम करने से मुंह में रहने वाले कीटाणु मर जाते हैं। दांतों पर जमी गंदगी जिसे प्लाक कहते हैं, वो धीरे-धीरे निकल जाती है और दांतों का पीलापन भी दूर होने लगता है।

फलों और सब्जियों से दांतों का पीलापन हटाएँ

दांतों को स्वस्थ और चमकदार बनाने के लिए आप कच्चे फलों और सब्जियों का सहारा ले सकते हो क्यूंकि इनमें पानी की प्रयाप्त मात्रा होती है, जो आपके दांतों को प्लाक और बैक्टीरिया मुक्त रखती है। 2019 में प्रकाशित reviews में ये पाया गया कि विटामिन C के सेवन से दांतों के पीलेपन से छुटकारा पाया जा सकता है। इसलिए ऐसे फल और सब्जियों का सेवन करें जिनमें विटामिन C की प्रचुर मात्रा हो।

नीम की दातुन

पुराने समय से ही नीम की दातुन का प्रयोग दांतों की सफाई के लिए किया जाता रहा है क्यूंकि इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो दांतों को प्लाक और बैक्टीरिया से दूर रखते हैं। इसके नियमित प्रयोग से आप दांतों का पीलापन भी दूर कर सकते हैं।

कुछ अन्य तरीके

  • पेट में एसिडिटी और कब्ज़ न होने दें
  • खाने के बाद अच्छी तरह कुल्ला करें और ऊँगली की मदद से दांतों को साफ़ करें
  • तम्बाकू, सिगरेट, शराब का सेवन न करें
  • सॉफ्ट ड्रिंक्स और कॉफ़ी आदि का सेवन भी नियमित मात्रा में करें
  • अपने आहार में कैल्शियम की मात्रा अधिक करें
  • पाइनएप्पल और स्ट्रॉबेरीज दो ऐसे फल हैं जो आपके दांतों को सफ़ेद कर सकते हैं
  • दिन में दो बार अवश्य ब्रश करें और हाँ ज्यादा जोर से ब्रश न करें क्यूंकि इससे इनेमल को नुकसान पहुंचता है

कुछ ऐसी चीजें जो दांतों को साफ़ करने के लिए बताई जाती हैं परन्तु इन्हें प्रयोग नहीं करना चाहिए

बहुत सी ऐसी चीजें हैं जो अक्सर दांतों को साफ़ करने के लिए और उनका पीलापन दूर करने के लिए बताई जाती हैं। लेकिन मैं उन चीजों को प्रयोग करने की सलाह नहीं दूंगा क्यूंकि उनके कुछ साइड-इफेक्ट्स होते हैं। वो चीजें हैं एप्पल साइडर विनेगर, चारकोल, प्लास्टर ऑफ़ पेरिस, फलों के छिलके। इनके प्रयोग से मसूड़े छिल सकते हैं और दांतों का इनेमल भी डैमेज हो सकता है।

निष्कर्ष

दांतों के पीलेपन को हटाने के लिए ऊपर बताये जितने भी तरीके हैं ये सिर्फ वही प्रयोग करें जिन्हें पीलेपन के अलावा और कोई तकलीफ नहीं है। यदि फिर भी आप कोई नुस्खा अपनाना चाहते हैं तो पहले अपने डेंटिस्ट से परामर्श ले लें। धन्यवाद।

प्रश्नोत्तर

प्रश्न- दांतों की सफाई डॉक्टर कैसे करते हैं?

उत्तर- दांतो में जब हार्ड प्लाक जमा हो जाता है तो उसके लिए डॉक्टर ultrasonic scaling machine की सहायता लेते हैं। इसे डेंटिस्ट teeth cleasning कहते हैं। इसका खर्चा 700 से 2000 रूपये तक हो जाता है।

प्रश्न- दांतों की सफाई क्यों आवश्यक है?

उत्तर- दांतों की क्या शरीर की हर एक अंग की सफाई करना अति आवश्यक है। यदि हम दांतों की सफाई नहीं करेंगे तो दांतों में कीड़ा लगना, प्लाक, मसूड़ों से खून आना जैसी अनेक समस्याएं उत्त्पन्न हो जाएंगी।

प्रश्न- क्या दांतों की सफाई कराने से दांत कमजोर हो जाते हैं?

उत्तर- जी नहीं ये एक भ्रान्ति है। क्यूंकि दांतों की सफाई अल्ट्रासोनिक मशीने द्वारा की जाती है और ये दांतों से वही परत हटाएगा जो ऊपर से आके आपके दांतों पर जमी है न कि आपके दांतों के ढाँचे को किसी प्रकार से हानि पहुंचायेगा।

इन्हें अवश्य पढ़ें –

हाइपोथायरायडिज्म के लक्षण, कारण और डाइट प्लान

डार्क अंडरआर्म्स से पाएं कुछ ही दिनों में छुटकारा

ये रूटीन अपनाएं और बालों की हर समस्या से मुक्ति पाएं


Spread the love

3 thoughts on “पीले दांतों को सफ़ेद बनाने के लिए अपनाएं ये तरीके | 13 Home Remedies for Yellow Teeth In Hindi”

  1. Pingback: दांतों की सड़न और दर्द को दूर करने के 13 घरेलू उपाय | Dant ke Dard ka Gharelu Upay - घरेलू नुस्खे - चरक संहिता

  2. Pingback: Prickly Heat: घमोरियों के कारण, लक्षण और 9 देसी इलाज | Ghamoriya ka Ilaj - घरेलू नुस्खे - चरक संहिता

  3. Pingback: काला मल का घरेलू उपचार, कारण और लक्षण | 7 Black Stool Treatment Home Remedies Hindi - घरेलू नुस्खे - चरक संहिता

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *