litchi benefits in hindi

लीची खाने के फायदे और नुकसान। आखिर किन्हें नहीं खानी चाहिए लीची | Litchi Benefits in Hindi

Spread the love

लीची खाने के फायदे और नुकसान आखिर किन्हें नहीं खानी चाहिए लीची Litchi Benefits in Hindi

आप भी सोच रहें होंगे कि गर्मियों में लीची खाना कैसे नुकसानदेह हो सकता है? लीची तो लगभग हर किसी को खानी अच्छी लगती है।

वैसे तो लीची गुणों का खजाना है, इसे खाने से शरीर को बहुत लाभ मिलते हैं जैसे कि स्किन ग्लो, पानी की कमी को दूर करती है और बालों के लिए भी अत्यंत लाभकारी है।

लेकिन यदि आप इसका ज्यादा मात्रा में सेवन करते हैं तो इसके नुकसान आपको झेलने पड़ सकते हैं। आइये पहले जानते किन लोगों को लीची का सेवन नहीं करना चाहिए?

किन्हें लीची का सेवन करने से बचना चाहिए?

डॉक्टर विशेषज्ञों का कहना कि जिन लोगों को पहले से कई बीमारियां हों, शुगर के मरीज को, गर्भवती महिलाओं को लीची के सेवन से पहले चिकित्सक की सलाह अवश्य लेनी चाहिए।

1. गर्भवती और ब्रैस्ट फीडिंग वाली महिलाएं

लीची की तासीर गर्म होती है, इसलिए गर्भावस्था के दौरान लीची का सेवन नहीं करना चाहिए क्यूंकि गर्म चीजें गर्भ को प्रभावित करती हैं। साथ ही इससे ब्लड शुगर लेवल भी बढ़ता है, जिससे मां और शिशु दोनों को डायबिटीज होने खतरा हो सकता है।

जैसा कि गर्भावस्था में बहुत कुछ खाने का मन करता है जिसमें लीची भी हो सकती है। परन्तु इसे खाने से पहले आप एक बार अपने डॉक्टर से सलाह कर लें।

2. Blood Pressure के मरीज न करें लीची का सेवन

ज्यादा लीची खाने से blood प्रेशर कम हो सकता है। जिसके कारण सुस्ती, बेहोशीपन, थकान की समस्या होने का खतरा रहता है।

अगर आप बीपी की मेडिसिन लेते हैं तो आपको लीची खाने में सावधानी बरतनी चाहिए। लीची का अर्क ब्लड शुगर के लेवल को कम कर सकता है।

3. एलर्जी है तो लीची से दूर रहें

इसकी तासीर गर्म होती है जो पेट में गर्मी करती है जिसके कारण नाक से खून आना (नकसीर), गले में खराश होना तथा बुखार भी हो सकता है।

बिहार में जब चमकी बुखार से 300 बच्चों की मौत हुई थी तो उसमें ये पाया गया था कि ये बच्चे लीची का सेवन अधिक मात्रा में करते थे।

4. डायबिटीज मरीज न खाएं लीची

डायबिटीज के मरीज लीची का सेवन बिल्कुल न करें क्यूंकि ये ब्लड शुगर के लेवल को कम कर देता है। खाली पेट लीची खाना जानलेवा साबित हो सकता है।

इसमें हाइपोग्लाइसिन और मेथिसीनसाईकलप्रोपाइल-गलाइसिन पाया जाता है, जो कि टॉक्सिन्स होते हैं। ऐसे में इसके ज्यादा सेवन से आपको उलटी की परेशानी भी हो सकती है।

5. सर्जरी के बाद न खाएं लीची

सर्जरी के बाद ब्लड शुगर लेवल को कण्ट्रोल करना मुश्किल होता है। इसलिए लीची का सेवन नहीं करना चाहिए क्यूंकि ये शुगर लेवल को कम कर देती है।

आइये अब जानते हैं लीची खाने के फायदे –

लीची में विटामिन सी, विटामिन B6, niacin, riboflavin, folate, पोटैशियम और न जाने कितने अन्य पोषक तत्व होते हैं। आइये इसके फायदे जानते हैं –

  • Digestion के लिए है अच्छी – लीची digestion के लिए बहुत अच्छी होती है। ये गैस्ट्रिक और पाचन के रस को उत्तेजित करती है, जिससे पोषक तत्वों का अवशोषण अधिक कुशल होता है। ये आपको कब्ज़ से भी राहत देती है।
  • बूस्ट इम्युनिटी लीची में मौजूद विटामिन सी आपकी इम्युनिटी को बूस्ट करने में उपयोगी है। लीची का जूस पीने से आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है।
  • कैंसर से बचाती है – लीची में मौजूद पोषक तत्व आपकी कैंसर जैसी बीमारी से रक्षा करती है।
  • त्वचा के लिए है फायदेमंद – यदि आप ज्यादा देर तक गर्मी में रहते हैं या धुप में घूमने के कारण आपकी त्वचा tan हो गयी है तो लीची का जूस इसमें बहुत ही फायदेमंद है।
  • आँखों का रखे ख्याल – एक रिसर्च में ये पता चला कि लीची मोतियाबिंद को रोक सकती है। इसमें फाइटोकेमिक्लस होते हैं जो एंटीऑक्सिडेंट्स और एंटीनेओप्लास्टिक गुणों से भरपूर होते हैं। इसका मतलब ये है कि ये कोशिकाओं की असामान्य वृद्धि को रोकने में मदद करते हैं, जिससे मोतियाबिंद होने का खतरा कम हो जाता है।
  • वजन कम करने में – लीची में ज्यादा कैलोरीज नहीं होती। लीची में बहुत सारा पानी और फाइबर की एक महत्वपूर्ण मात्रा होती है, तो यदि आप अपना वजन करना चाहते हैं तो लीची खाइये।

निष्कर्ष

लीची का सेवन नियमित मात्रा में ही करना चाहिए चाहे आपको कोई रोग है या नहीं। जिन लोगों को उपर्युक्त में से कोई बीमारी है, वे केवल डॉक्टर के परामर्श के बाद ही लीची का सेवन करें।

प्रश्न- लीची किस समय खानी चाहिए ?

उत्तर- इसे भोजन करने के आधे या एक घंटे बाद खा सकते हैं। लेकिन खाली पेट लीची कभी न खाएं। इसका आपको काफी नुक्सान हो सकता है।

प्रश्न- लीची की क्या कीमत है?

उत्तर- लीची 100 से 150 रूपये किलो तक मिलती है। वैसे हर साल इसके भाव में उतार-चढ़ाव होता रहता है। पिछले साल इसका भाव 80-90 रूपये किलो था।

प्रश्न- सबसे ज्यादा लीची कहाँ होती है?

उत्तर- ज्यादातर लीची china में होती है। उसके बाद भारत के बिहार, महाराष्ट्र, पंजाब और तमिलनाडु में लीची की खेती होती है।

प्रश्न- एक दिन में कितनी लीची खानी चाहिए?

उत्तर- यदि आप पूर्णतया स्वस्थ हैं तो दिन में 8-10 लीची खा सकते हैं। बस ध्यान रहें कि खाली पेट लीची न खाएं। जिन्हें कोई रोग है डॉक्टर के परामर्श के बाद ही लीची खाएं।

इन्हें भी पढ़ें –

मानसून में न खाएं फ़ास्ट-फ़ूड, हो सकता शरीर को नुकसान

दांतों का पीलापन कर रहा है आपके कॉन्फिडेंस को कम, तो अपनाये ये चमत्कारी उपाय

शिलाजीत क्यों है सबसे प्रभावशाली औषधि, आइये जानिये


Spread the love

1 thought on “लीची खाने के फायदे और नुकसान। आखिर किन्हें नहीं खानी चाहिए लीची | Litchi Benefits in Hindi”

  1. Pingback: सेहत के लिए लाजवाब है भिंडी का सेवन, जानें 9 चमत्कारी फायदे | Bhindi Khane Ke Fayde - घरेलू नुस्खे - चरक संहिता

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *