Saturday, May 28, 2022
Beautyइन 7 घरेलू उपायों से मिलेगा चेहरे की झाइयों से छुटकारा |...

इन 7 घरेलू उपायों से मिलेगा चेहरे की झाइयों से छुटकारा | Home Remedies for Pigmentation on Face in Hindi

- Advertisement -

इन 7 घरेलू उपायों से मिलेगा चेहरे की झाइयों से छुटकारा Home Remedies for Pigmentation on Face in Hindi

पुरुष हों या महिलाएं चेहरे की सुंदरता कौन नहीं चाहता। आज के युग लुक्स बहुत अहम स्थान रखती हैं। कहते हैं इंसां का दिल कितना भी अच्छा हो मोहब्बत चेहरे से ही शुरू होती है। इसी चेहरे पर यदि झाईयां पड़ जाएँ तो इंसान अपना चेहरा भी शीशे में देखने से कतराता है। इसलिए झाइयों की समस्या से छुटकारा पाने के लिए ऐसे घरेलू नुस्खे बताएंगे (Home Remedies for Pigmentation on Face in Hindi) जो इस समस्या को जड़ से खत्म कर देंगे। लेकिन पहले जानेंगे झाइयां क्या हैं, क्यों होती हैं?

डार्क सर्कल्स को जड़ से खत्म करने के कुछ आसान घरेलू उपाय

Table of Contents

झाइयां क्या हैं (Skin Pigmentation Meaning in Hindi)

देखिये आपकी चमड़ी में हर जगह मेलनोसाइट्स हैं जो मेलेनिन बनाते हैं। यही मेलेनिन आपकी त्वचा के रंग को गहरा या हल्का करते हैं। जिनकी चमड़ी में मेलेनिन ज्यादा है उसे हाइपर पिगमेंटेशन कहते हैं और जहाँ रंग आपकी त्वचा के रंग से थोड़ा हल्का हो गया है, वो हाइपो पिगमेंटेशन कहलायेगा। यदि मेलेनिन बिल्कुल खत्म हो गया है तो वो डीपिगमेंट हो जाएगा। त्वचा के कुछ जगहों पर यदि मेलेनिन ओवरएक्टिव हो गए तो स्किन काली या भूरी हो जायेगी और अंडरएक्टिव हो गए तो त्वचा हल्के रंग की हो जायेगी।

त्वचा पर रंजकता के कारण (Skin Pigmentation Causes in Hindi)

हर एक बीमारी का कोई न कोई कारण( Skin Pigmentation Causes in Hind ) जरूर होता है और यदि वो कारण पता चल जाए तो उसका इलाज करना उतना ही आसान हो जाता है –

त्वचा पर रंजकता के कारण

झाइयों को जड़ से मिटाने के घरेलू उपाय (Home Remedies for Pigmentation on Face in Hindi)

चेहरे की झाइयों को जड़ से मिटाने के लिए कुछ आसान घरेलू उपचार ( Home Remedies for Pigmentation on Face in Hind) हैं, जिन्हें आप निश्चित होकर आजमा सकते हैं –

ख़ास नोट – यदि आपको प्राकृतिक नुस्खों से किसी प्रकार की एलर्जी है तो कृपया पहले अपने डर्मेटोलॉजिस्ट से पूछकर ही किसी उपाय को प्रयोग करें।

मूंग की दाल का पेस्ट करेगा झाइयों को जड़ से खत्म

3 चम्मच मूंग की दाल को रातभर दूध में भिगो कर रख दें। सुबह उठने के बाद मूंग की दाल को अच्छे से पीसकर इसका थिक पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को 15-20 मिनट के लिए चेहरे पर लगाएं। तत्पश्चात ताजे पानी से चेहरे को धो लें। हफ्ते में 2 या 3 दिन इसका प्रयोग करें। महीने के बाद आपको काफी लाभ मिलेगा।

संतरे का छिलका करेगा झाइयों का खात्मा

संतरे को छीलें और उसकी फाड़ियों को खा लें। संतरे के छिलके का अंदरूनी हिस्सा अपनी झाइयों पर अच्छे से मलें। इसके बाद ताजे पानी से चेहरे को धो लें। आप देखेंगे कि कुछ ही दिनों के प्रयोग से झाइयां हल्की होती जाएंगी और चेहरे का रंग निखरता जाएगा।

अर्जुन की छाल करेगी झाइयों को दूर

अर्जुन की छाल कान के दर्द, सूजन और हृदय रोगों में जितनी लाभकारी है उतनी ही वह चेहरे को खूबसूरत बनाने के लिए और हर प्रकार के दाग-धब्बे, झाइयां को दूर करने के लिए उपयोगी है। इसे चंदन की तरह घिसकर पेस्ट बना लें और झाइयों वाले स्थान पर लगाएं। झाइयां जल्द ही ठीक हो ( Home Remedies for Pigmentation on Face in Hind) जाएंगी।

जायफल करेगा झाइयों को जड़ से खत्म

जायफल दूध के साथ सेवन करने से UTI (यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन) की समस्या को ठीक करने का दम रखता है और त्वचा की सुंदरता के लिए तो इसका प्रयोग सदियों से किया जा रहा है। जायफल को घिसने वाले पाटे या पीडे पर घिसे और साथ में एक चम्मच कच्चा दूध डाल दें। इससे अच्छा-सा पेस्ट बन जाएगा, फिर इस पेस्ट को अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं। आप देखेंगे कि कुछ ही दिनों के प्रयोग से झाइयों का अंत हो जाएगा।

दही, चीनी और नीम्बू का प्रयोग करेगा रंजकता को जड़ से दूर

दही में पर्याप्त मात्रा में लैक्टिक एसिड मौजूद होता है जो रंजकता वाले सेल्स को हटाकर नए सेल्स की ग्रोथ में मदद करता है। चीनी ग्लाइकोलिक एसिड का बहुत ही अच्छा स्त्रोत है जो आपकी हाइपर पिगमेंटेशन को कम करने में मदद करती है। इसके प्रयोग का तरीका समझ लें –

प्रयोग कैसे करें – सबसे पहले चेहरे को अच्छी तरह धो लें और पोंछ लें। उसके बाद दही को चेहरे पर लगाएं और 15-20 मिनट के छोड़ दें। तत्पश्चात चीनी को अच्छे से बारीक कर लें और उसमें आधा नीम्बू निचोड़ दें। फिर उसी नीम्बू की सहायता से इस मिश्रण को चेहरे पर मलें (स्क्रब करें) और इसके बाद अपने चेहरे को ताजे पानी से धो लें। चेहरा खिल उठेगा और रंजकता दूर ( Home Remedies for Pigmentation on Face in Hind) हो जायेगी।

चंदन पाउडर, आलू का रस और हल्दी से बनाया पैक करेगा झाइयों को दूर

चंदन पाउडर (1 चम्मच), एक चुटकी हल्दी में इतना आलू का रस मिलाएं कि जिससे अच्छा-सा पेस्ट बन जाए। फिर इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं और 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद ताजे पानी से चेहरे को धो लें। ध्यान रहे कि इस पैक ऊपर दिए गए स्क्रब के बाद लगाना है। इससे बहुत ही जल्दी और जबरदस्त रिजल्ट मिलेगा।

टमाटर का रस करेगा पिगमेंटेशन को जड़ से खत्म

टमाटर में एन्ज़ाइम्स और विटामिन सी भरपूर मात्रा में होते हैं। ये दोनों तत्व त्वचा के लिए काफी लाभकारी हैं। टमाटर त्वचा की मृत कोशिकाओं को पुनर्जीवित करता है और मुंहासों के बाद होने वाले दाग-धब्बों से भी छुटकारा दिलाता है एवं हाइपर पिगमेंटेशन को जड़ से खत्म करने का माद्दा रखता है। इसके लिए इसे इस प्रकार प्रयोग करें –

प्रयोग का तरीका – 1 चम्मच टमाटर का रस, 1 चम्मच नीम्बू का रस और 1 चम्मच कच्चे आलू का रस – इन तीनों को अच्छे से मिक्स कर लो और रुई की मदद से इसे अपने चेहरे पर लगाओ और आधे घंटे तक लगा रहने दो। इसके बाद ताजे पानी से चेहरा धो लें। इसे हफ्ते में 3 बार करें झाइयां जड़ से खत्म हो जाएंगी।

झाइयां हटाने के लिए क्या खाना चाहिए

आइये अब जानते हैं हाइपर पिगमेंटेशन में क्या खाना चाहिए –

  • फलों में संतरा, अमरुद, कीवी और पपीता जरूर खाएं
  • अपनी डाइट में गाजर, शकरकंदी, हरी-पत्तेदार सब्जियां जरूर शामिल करें
  • विटामिन इ युक्त खाद्य-पदार्थ जैसे बादाम, सन फ्लावर आयल का सेवन करें
  • विटामिन बी12 की कमी के कारण भी त्वचा काली पड़ती है इसलिए मशरुम, दही आदि का सेवन जरूर करें
  • चकुंदर का सेवन भी झाइयों को दूर करता है
  • अलसी के बीज भी त्वचा से फ्री रेडिकल्स को दूर करते हैं
  • कद्दू का सेवन भी बहुत उपयोगी है झाइयों को दूर करने में

पतंजलि की कौनसी क्रीम झाइयों के लिए उपयोगी है

वैसे तो घरेलु उपायों के द्वारा आपको निश्चित तौर पर लाभ प्राप्त होगा लेकिन कुछ लोगों के पास समय का बहुत आभाव होता है और वो क्रीम लगाना ज्यादा पसंद करते हैं इसलिए मैं पतंजलि की एंटी एजिंग क्रीम लगाने की सलाह दूंगा।

अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्न – झाइयां किस विटामिन की कमी से होती हैं?

उत्तर – ज्यादातर विटामिन सी की कमी के कारण लेकिन विटामिन ए और इ भी त्वचा के लिए बहुत उपयोगी है। इसलिए अपने आहार में इन तीनों को विटामिन्स के खाद्य पदार्थों को जरूर शामिल करें।

प्रश्न – झाइयां कितने प्रकार की होती हैं?

उत्तर – झाइयां दो प्रकार की होती हैं – 1. हाइपर पिगमेंटेशन 2. हाइपो पिगमेंटेशन। हाइपर में त्वचा गहरी भूरी और काले रंग की हो जाती है और हाइपो में त्वचा हल्के सफेद रंग की हो जाती है।

प्रश्न – ठंड के मौसम में झाइयां दूर करने का घरेलू उपाय क्या है?

उत्तर – ठंड के मौसम में त्वचा रूखी और बेजान हो जाती है उसपर सफ़ेद रंग की पपड़ी भी आने लगती है। इसके लिए त्वचा को मॉइस्चराइस करना चाहिए। आपको पपीते का पेस्ट चेहरे पर लगाना चाहिए और साबुन की बजाय कच्चे दूध से ही चेहरे को साफ़ करना चाहिए।

प्रश्न – नाक पर झाइयां क्यों होती हैं?

उत्तर – नाक पर झाइयां होने का प्रमुख कारण यही है कि नाक सूर्य की किरणों के सम्पर्क में अधिक आता है और अन्य कारण जैसे होर्मोनेस में बदलाव, कई प्रकार के सौंदर्य उत्पादों का प्रयोग करना।

इन्हें भी पढ़ें –

दाद की समस्या से निजात पाने के लिए अपनाएँ ये गजब के देसी उपाय

ये आदतें यदि आपकी भी हैं तो जल्द ही छोड़ें नहीं तो बूढ़ा होने से कोई नहीं रोक सकता

- Advertisement -

Exclusive content

Latest article

More article