Sunday, May 22, 2022
Body Healthखसरा रोग के कारण, लक्षण और घरेलू उपचार | Home Remedies for...

खसरा रोग के कारण, लक्षण और घरेलू उपचार | Home Remedies for Measles in Hindi

- Advertisement -

खसरा रोग के कारण, लक्षण और घरेलू उपचार Home Remedies for Measles in Hindi

बदलते मौसम में वायरल फ्लू की चपेट में बड़े हों या बच्चे आ जाते हैं। इसमें सर्दी-खांसी, जुकाम और बुखार हो सकता है। खसरा में भी यही सब लक्षण देखने को मिलते हैं। बस इसमें लाल चकत्ते भी शरीर पर हो जाते हैं। यह रोग किसी भी उम्र के व्यक्ति को अपनी चपेट में ले सकता है।

संक्रमण रोगों में खसरा को काफी खतरनाक माना जाता है। बच्चों को ये रोग होने का खतरा सबसे अधिक होता है। इसका टीकाकरण बहुत ज्यादा हुआ है और इसलिए अब ये माना जाता है कि खसरा खत्म हो चुका है जिस वजह से इस रोग के बारे में लोगों को इतनी जानकारी नहीं है।

आज इस लेख में हम आपको खसरा संबंधी सारी जानकारी उपलब्ध कराएँगे जैसे इसके कारण, लक्षण और घरेलू (Home Remedies for Measles in Hindi) उपचार।

खसरा रोग क्या है?

खसरा एक संक्रमक बीमारी है जो एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति को बहुत तेजी से फैलती है। इस रोग में रोगी का पहले गला खराब होता है और फिर बुखार हो जाता है। 2-4 दिन पहले से ही शरीर पर लाल चकत्ते निकलना शुरू हो जाते हैं। ये संक्रमण लगभग 14 दिनों तक रहता है। 9 माह से 10 वर्ष तक के बच्चों को ये रोग अधिक होने की संभावना होती है।

खसरा रोग के कारण और लक्षण

खसरा रोग के कारण और लक्षण निम्नलिखित हैं –

स. कारण लक्षण
1मीसल्स वायरस के कारण बुखार होना
2किसी संक्रामक व्यक्ति के सम्पर्क में आने से कंजक्टिवाइटिस
3कुपोषण से जुकाम-खांसी
4विटामिन ए की कमी के कारण लाल चकत्ते होना
5कमजोर इम्युनिटी की वजह से नाक बहते रहना
6सूखी खांसी होना
7गले का दर्द होना

खसरा रोग का घरेलू उपचार (Home Remedies for Measles in Hindi)

कुछ घरेलू उपायों द्वारा आप खसरा रोग का उपकार कर सकते हैं जैसे कि –

आराम करें

जितने भी संक्रामक रोग होते हैं उनमें आराम करने से काफी फर्क पड़ता है। जैसे कई लोगों को बुखार, खांसी और जुकाम होता है तो चिकित्सक उन्हें पूरी तरह आराम करने की ही सलाह देते हैं, इसलिए खसरा रोग में आपको कम्पलीट आराम करना चाहिए।

संतरे का रस

संतरे के रस में विटामिन सी के अलावा कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर को शक्ति प्रदान करते हैं। खसरे की वजह से बुखार होने पर संतरे का रस रामबाण औषधि की तरह काम करता है। इससे लार का बनना शुरू हो जाता है जिससे भूख में वृद्धि होती है। इसके अलावा टीबी, टाइफाइड और यूरिनरी सिस्टम को ठीक करने में भी उपयोगी है।

पौष्टिक आहार का सेवन करें

किसी भी रोग से लड़ने के लिए उचित और पौष्टिक आहार की भूमिका अहम होती है। इसलिए अपने भोजन में ऐसे खाद्यपदार्थों को शामिल करें जो आपकी इम्युनिटी को बूस्ट करें और शारीरिक बल भी प्रदान करें।

नीम के पत्ते

नीम के पत्तों में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं जो आपके शरीर पर होने वाले लाल चकत्तों को ठीक करने में काफी फायदेमंद है। नीम के पत्तों को पानी में अच्छे उबालकर पानी ठंडा कर लें और इसी पानी से अपने शरीर को साफ़ कर सकते हैं। इससे खाज-खुजली की समस्या भी दूर होगी।

नारियल पानी

नारियल पानी की तासीर ठंडी होती है और जैसे ही इसे रोगी को पिलाया जाता है, उसे भी ठंडक का एहसास मिलता है। क्यूंकि इस बीमारी में चकत्ते निकलने से जलन होती है और मनुष्य चिड़चिड़ा भी हो जाता है।

खसरा का इलाज कैसे किया जा सकता है?

खसरा के लिए vaccination ही उपयुक्त इलाज है लेकिन फिर भी लक्षणों नियंत्रित करने के लिए कुछ उपाय किये जा सकते हैं।

  • गुनगुना पानी पीते रहे
  • आराम करें
  • चिकित्सक से सलाह करके बुखार की दवा लें

कुछ cases में खसरा रोग में बच्चों में कुछ जटिलताएं भी देखि गई हैं जैसे –

  • कान में इन्फेक्शन
  • निमोनिया
  • दस्त/उल्टी

डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

जैसे ही आपको लक्षण दिखाई देने लगे तो आपको तुरंत चिकित्सक को दिखा देना चाहिए और ज्यादा शीघ्र तब जब रोगी

  • शिशु हो
  • ऐसी दवाएं ले रहा हो जो इम्युनिटी को कमजोर करती हैं
  • अन्य बीमारी भी हो जैसे कैंसर, टीबी आदि

निष्कर्ष

यदि आपने वैक्सीन नहीं ली तो खसरा होने का खतरा अधिक बढ़ जाता है। लेकिन उपर्युक्त घरेलू उपाय आपको लक्षणों से निपटने में काफी मदद करेंगे।

अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्न – क्या खसरा संक्रामक है?

उत्तर – खसरा सबसे खतरनाक संक्रामक रोगों में से एक है। जिन लोगों को टीका नहीं लगा होता, उन्हें खसरा होने का खतरा अधिक होता है।

प्रश्न – खसरा कब तक रहता है?

उत्तर – खसरा कुछ दिनों से लेकर कई हफ्तों तक रह सकता है। यदि आप किसी संक्रमक व्यक्ति के सम्पर्क में आ जाते हैं तो उसके 4-5 दिनों बाद आपको लक्षण दिखने लगेंगे।

- Advertisement -

Exclusive content

Latest article

More article