Monday, December 5, 2022
Body Healthजानें मुंह से बदबू आने के कारण और इसका घरेलू उपचार |...

जानें मुंह से बदबू आने के कारण और इसका घरेलू उपचार | 7 Home Remedies for Bad Breath in Hindi

- Advertisement -

जानें मुंह से बदबू आने के कारण और इसका घरेलू उपचार 7 Home Remedies for Bad Breath in Hindi

क्या आपके मुंह से भी बदबू आती है? क्या आपके पास लोग खड़े होने से कतराते हैं? मुंह से बदबू आना किसी भी व्यक्ति को शर्मिंदा कर सकता है। लेकिन अपनी मुंह की स्मेल को सूंघ पाना बहुत कठिन होता है। इसलिए आपको किसी दुसरे ये पूछना ही पड़ेगा कि क्या आपके मुंह से बदबू आ रही है? यदि हाँ तो आपको इसका उपचार करवाना चाहिए। ज्यादातर मुंह से बदबू अच्छे से मुंह की साफ़-सफाई न करने के कारण ही आती है।

लेकिन घबराने की कोई बात नहीं है क्यूंकि हम आपको ऐसे गजब के नुस्खे (Home Remedies for Bad Breath in Hindi) बताएंगे जिससे आपके मुंह की बदबू हमेशा के लिए खुशबू में बदल जायेगी। लेकिन पहले जानेंगे इसके कारण।

अब आपके दांत भी चमकेंगे मोतियों की तरह बस कीजिये ये आसान उपाय

मुंह से बदबू आने के कारण

मुंह से बदबू आने का सबसे बड़ा कारण मुंह में पनपने वाले बैक्टीरिया होते हैं। जैसे ही हम कुछ खाते हैं तो उसके कुछ कण मसूड़ों और दांतों पर चिपक जाते हैं। इसके अन्य भी कई कारण हैं, आइये जानते हैं –

स. कारण
1मुंह की अच्छे से सफाई न करने के कारण
2दांतों पर मैल जमा हो गयी है
3मसूड़ों में जख्म होने की वजह से
4दांतों में कीड़ा लगने के कारण
5कब्ज़ के कारण भी मुंह से बदबू आती है
6मुंह में छाले हो जाना भी एक कारण है
7तम्बाकू का सेवन करना
8पानी कम पीने की वजह से
9गले में इन्फेक्शन होने पर भी मुंह से बदबू आती है
10प्याज, लहसुन, मूली का सेवन करने से
11मुंह सूखने के कारण

मुंह की दुर्गंध भगाने के 8 तरीके (Home Remedies for Bad Breath in Hindi)

मुंह की अच्छे से सफाई करने के साथ साथ आप ये निम्नलिखित तरीके (Home Remedies for Bad Breath in Hindi) भी आजमाएं। इन उपायों से आपके मुंह की बदबू हमेशा के लिए गायब हो जायेगी।

लौंग और इलाइची

लौंग दांतों के दर्द और कैविटी को ठीक करने के लिए तो महत्वपूर्ण है ही साथ ही मुंह से आने वाली बदबू को खत्म करने के लिए भी बहुत उपयोगी है क्यूंकि इसके एंटी-बैक्टीरियल गुण मुंह के अंदर जमा गंदे बैक्टीरिया को खत्म करते हैं। इसके साथ इलाइची भी वात संतुलन करती है और मुंह के सूखेपन को दूर करती है।

प्रयोग का तरीका – एक लौंग और एक इलाइची को अपनी दाढ़ के नीचे रखकर चूसते रहें। मुंह से बदबू आना हमेशा के लिए बंद हो जाएगा। 21 दिनों तक लगातार इसका प्रयोग करें। 12-1 बजे के लगभग इस नुस्खे का प्रयोग करें।

हरा धनिया

हरा धनिया दुर्गन्धयुक्त सल्फर कंपाउंड्स का प्रभावी ढंग से मुक़ाबला करता है और ये साँसों की बदबू को दूर करने के लिए लोकप्रिय उपचार है। इसमें अच्छी सुगंध और क्लोरोफिल होता है जो मुंह की दुर्गन्ध को दूर करता है।

प्रयोग कैसे करें – अपनी हर एक मील के बाद कुछ पत्तियां ताजे हरे धनिये की चबाएं। इससे यदि आपने भोजन में प्याज या लहसुन आदि खाया है तो उसकी बदबू भी नहीं आएगी।

अनानास का रस

पेट सम्बन्धी किसी रोग के कारण या कब्ज़ की समस्या के कारण मुंह से बदबू आ रही है तो उसमें अनानास का रस काफी उपयोगी साबित हो सकता है। क्यूंकि इसमें फाइबर और विटामिन सी होता है जो पेट की गैस, एसिडिटी को ठीक करता है और इम्युनिटी को बढ़ाता है।

प्रयोग का तरीका – दिन में दोपहर के समय एक गिलास अनानास का जूस अवश्य पीएं। आप चाहें तो इसमें मौसमी भी मिला सकते हैं। बहुत से लोगों का ये मानना है कि इसके सेवन से मुंह की बदबू खत्म होती है।

दही

दही में लैक्टो बेसिलस नामक बैक्टीरिया होता है जो आपके मुंह के अंदर पनपने वाले bad बैक्टीरिया से लड़ता है और मुंह की बदबू को दूर करता है। इसके साथ दही आपके दांतों और हड्डियों के लिए भी उपयोगी है।

प्रयोग कैसे करें – दोपहर के खाने के बाद दही का सेवन करें। दही में नमक का प्रयोग न करें क्यूंकि इससे दही के अंदर मोजूद बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं। दही में शक्कर का प्रयोग करें। 40 दिन तक नियमित दही खाने से मुंह की दुर्गन्ध निश्चित रूप से दूर हो जाती है।

मुलहठी

गले में होने वाले संक्रमण के कारण यदि मुंह से बदबू आ रही है तो मुलहठी इसमें बहुत उपयोगी है क्यूंकि इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स आपके गले के इन्फेक्शन को दूर करते हैं और साथ ही खांसी में लाभकारी हैं। ये मुंह की दुर्गन्ध को दूर (Home Remedies for Bad Breath in Hindi) करके उसमें सुगंध भर देगी।

प्रयोग – मुलहठी का प्रयोग आप किसी भी समय कर सकते हैं। नाश्ता करने के 2-3 घंटे बाद इसका एक टुकड़ा मुंह में रखकर चूसते रहें। मुंह की दुर्गन्ध हमेशा के लिए दूर हो जायेगी। कम से कम 21 दिन अवश्य करें।

सौंफ

सौंफ को प्राकृतिक माउथ फ्रेशनर के रूप में जाना जाता है। इसका प्रयोग सदियों से भोजन के बाद सेवन करके किया जाता रहा है। इसे भारत के अधिकतर घरों में ‘मुखवास’ के नाम से भी पुकारते हैं। इसमें एरोमेटिक एसेंशियल आयल होता है जो मुंह को फ्रेश रखता है और आने वाली बदबू को खत्म करता है।

प्रयोग का तरीका – भोजन के उपरान्त एक चम्मच सौंफ और थोड़ा-सा गुड़ – इन दोनों का सेवन करने से भोजन भी जल्दी पचता है और मुंह से बदबू आने की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।

विटामिन सी युक्त फल

विटामिन सी युक्त फल जैसे संतरा, मौसमी आदि अवश्य खाएं क्यूंकि ये मुंह में सलाइवा का उत्पादन करते हैं जिससे बैड बैक्टीरिया कम होते हैं और मुंह से आने वाली दुर्गन्ध खत्म होती है।

कब और कैसे खाएं – फलों का सेवन दोपहर के भोजन से 1 घंटा पहले करें। संतरे, किन्नु और मौसमी का सेवन अवश्य करें क्यूंकि इसमें फाइबर और विटामिन सी होता है जो इम्युनिटी बूस्टर भी है।

तुलसी

तुलसी में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं जो हमारे गले के इन्फेक्शन को दूर करने के साथ-साथ साँसों की दुर्गन्ध को दूर करने में भी लाभकारी हैं। इसके साथ ही तुलसी पुरुषों के यौन रोगों को और स्त्रियों में अनियमित मासिक धर्म की समस्या को ठीक करने के लिए भी उपयोगी है।

प्रयोग का तरीका – तुलसी की पत्तियों को अच्छे से पानी में उबाल लें और गुनगुना होने पर उस पानी का कुल्ला करें। इससे साँसों से आने वाली बदबू का नाश होगा।

अन्य उपाय जिससे मुंह की बदबू आने से बचा जा सके

अब कुछ ऐसे तरीके बताते (Home Remedies for Bad Breath in Hindi) हैं जिससे आप मुंह की दुर्गन्ध से बच सकेंगे और अपने-आप में कॉंफिडेंट महसूस करेंगे।

  • दिन में दो बार ब्रश करें
  • अपनी जीभ को जरूर साफ़ करें
  • पानी पर्याप्त मात्रा में पीएं
  • पेट में गैस न बनने दें
  • तम्बाकू, गुटखा, सिगरेट आदि छोड़ दें
  • भोजन के बाद कुल्ला जरूर करें
  • खाली पेट एक चम्मच तिल का तेल मुंह में रखकर कुल्ला करें

डॉक्टर को कब दिखायें?

ज्यादातर मुंह से दुर्गन्ध आने का कारण मुंह की अच्छे से सफाई होता है। लेकिन यदि सभी घरेलू उपचार करने के बाद भी मुंह से बदबू आ रही है तो ये किसी गंभीर रोग का लक्षण हो सकता है जैसे किडनी, लिवर आदि। ऐसी स्थिति में आपको तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्न – किन बिमारियों में किस प्रकार की दुर्गंध आती है?

उत्तर – 1. मुंह में चिकनाहट जैसी स्मेल – गले का इन्फेक्शन होना। 2. मल जैसी दुर्गंध आना – इंटेस्टाइन ऑब्स्ट्रक्शन की वजह से। 3. एसिड जैसी स्मेल आना – अस्थमा का संकेत हो सकता है।

प्रश्न – ब्रश करने के बाद भी मुंह से बदबू आना क्या संकेत करता है?

उत्तर – यदि आप नित्य दिन में 2 बार ब्रश करते हैं और भोजन के बाद अच्छे से कुल्ला करके मुंह को साफ़ करते हैं और फिर भी मुंह से बदबू आती है तो सावधान हो जाइये क्यूंकि ये लिवर, किडनी, मधुमेह, लंग्स से जुड़ी बीमारी का संकेत हो सकता है। ऐसी स्थिति में आपको तुरंत चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए।

प्रश्न – सुबह उठने के बाद मुंह से इतनी बदबू क्यों आती है?

उत्तर – रात भर सोते रहने से मुंह में स्लाइवा नहीं बनता जिससे बैक्टीरिया पनपते हैं और सुबह उठने पर मुंह से अधिक दुर्गन्ध आती है। कई बार रात को मीठा खा लेने के बाद अच्छे मुंह साफ़ करने से भी सुबह बदबू अधिक आती है।

इन्हें भी पढ़ें –

बालतोड़ हो जाने पर करें ये आसान घरेलू उपचार

सर्दियों में यदि सूज जाती हाथ-पैर की उँगलियाँ तो करें ये घरेलू उपाय

- Advertisement -

Exclusive content

Latest article

More article