Sunday, December 4, 2022
Body Healthबड़े हुए कोलेस्ट्रॉल को कम करने के घरेलू उपाय और खान-पान |...

बड़े हुए कोलेस्ट्रॉल को कम करने के घरेलू उपाय और खान-पान | 7 Home Remedies for Cholesterol in Hindi

- Advertisement -

बड़े हुए कोलेस्ट्रॉल को कम करने के घरेलू उपाय और खान-पान 7 Home Remedies for Cholesterol in Hindi

हमारा लिवर प्राकृतिक रूप से कोलेस्ट्रॉल का उत्पादन करता है और ये कोलेस्ट्रॉल पूरी बॉडी में प्रोटीन की सहायता से ट्रेवल करता है। दो प्रकार के कोलेस्ट्रॉल होते हैं – 1. बैड कोलेस्ट्रॉल 2. गुड कोलेस्ट्रॉल। गुड कोलेस्ट्रॉल को HDL कहते हैं और बैड कोलेस्ट्रॉल को LDL & VLDL कहते हैं। ये बैड कोलेस्ट्रॉल खुद ही रक्त वाहिकाओं में जमा हो जाता है और हार्ट अटैक और स्ट्रोक्स जैसी समस्याओं को पैदा करता है।

हर इंसान बहुत ही सावधान रहना चाहिए कि वह किस प्रकार की फैट का सेवन कर रहा है। तीन किस्म की फैट्स होती हैं। 1. सैचुरेटेड फैट – ये फैट ज्यादातर मांसाहार और डेरी प्रोडक्ट्स में होती है। ये लिवर को बैड कोलेस्ट्रॉल का उत्पादन करने का निर्देश देती हैं। 2. अनसैचुरेटेड फैट – ये फैट सब्जियों, नट्स से प्राप्त होती है। ये बैड कोलेस्ट्रॉल को दूर करने में मददगार होती है। 3. ट्रांसफैट – ये ज्यादातर फ्राइड फूड्स, बेक्ड फूड्स और पैकेट फूड्स में पाई जाती है। ये हमारी बॉडी के लिए सबसे ज्यादा हानिकारक हैं।

तो इसलिए बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए कुछ घरेलू उपाय बताएंगे लेकिन उससे पहले जानेंगे कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के कारण और लक्षण।

पेट के अल्सर को को ठीक करने के उपाय जानने के लिए लिंक पर क्लिक करें

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के कारण और लक्षण

ट्रांसफैट फूड्स का अधिक सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है और इसके साथ अन्य कई कारण भी होते हैं। साथ ही जानेंगे इसके लक्षण भी –

स. कारण लक्षण
1शरीर का वजन ज्यादा बढ़ना दस्त लगना
2धूम्रपान और शराब का सेवन करना बालों का झड़ना
3अधिक मांसाहार और फ्राइड फूड्स खाना सांस फूलना
4फैटी लिवर और थाइरोइड जैसी बीमारी के कारण पसीना अधिक आना
5अधिक मात्रा में दवाओं का सेवन करना बेचैनी होना
6यूरिक एसिड के बढ़ने की वजह से जोड़ों में दर्द की समस्या
7मधुमेह रोग के कारण शरीर में भारीपन महसूस होना
8जंक फ़ूड खाने से कमजोरी और थकान होना
9व्यायाम न करना और अधिक तनाव लेना सिर दर्द होना

कोलेस्ट्रॉल को कम करने के आसान घरेलू उपाय (Home Remedies for Cholesterol in Hindi)

जैसे ही आपको उपर्युक्त लक्षणों में से कुछ लक्षण महसूस होने लगें तो निम्नलिखित घरेलू उपायों के द्वारा उसे कण्ट्रोल करने की कोशिश करें। ऐसे ही कुछ सरल घरेलू उपाय आपको बताने लगे हैं –

लहसुन रक्तसंचार को सुधारने में काफी उपयोगी है। कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से रक्त वाहिकाओं में जो चिकनाहट जम जाती है लहसुन उसे खोलने में मदद करता है और बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। लहसुन की कच्ची कली (1) अच्छे से चबाएं और ऊपर से 1 गिलास गुनगुना पानी पी जाएँ। यह उपाय सुबह खाली पेट करें। 
अर्जुन की छाल का चूर्ण(1/2 चम्मच) को एक गिलास पानी में अच्छे से उबालें और तब तक उबालें जब पानी एक कप न रह जाए। फिर उसे अच्छे से कपड़छान कर लें और उसके बाद सिप-सिप करके पीएं। सुबह-शाम 30 दिन इसका प्रयोग करें और इसके बाद आपका कोलेस्ट्रॉल चेक करवाएं, आप भी देखेंगे कि चमत्कार हो गया। अर्जुन की छाल कोलेस्ट्रॉल को कम करने के सात-साथ हाई बीपी को भी कण्ट्रोल करती है। 
धनिया के पानी में मधुमेह को नियंत्रित करने के साथ साथ थाइरोइड होर्मोनेस को भी कण्ट्रोल करने के गुण मौजूद होते हैं। यदि इन दोनों कारणों की वजह से आपका कोलेस्ट्रॉल बड़ा है तो आपको रात को 1 चम्मच धनिया पाउडर 1 गिलास पानी में डालकर रख देना है और सुबह अच्छे से छानकर इसका सेवन करना है। कोलेस्ट्रॉल को कम करने के साथ ही शरीर में मेटाबोलिज्म को तेज करेगा और वजन को घटाएगा। 
लौकी के रस में कोलेस्ट्रॉल को कम करने के सभी गुण मौजूद होते हैं और इसके साथ ही यह उच्च रक्तचाप को भी नियंत्रित करता है। दिन में किसी भी समय एकबार लौकी का रस अवश्य पीएं। बस ध्यान इतना रहे कि लौकी कड़वी न हो।  
ईसबगोल की भूसी भी कोलेस्ट्रॉल को कम करने में उपयोगी है। अभी हाल ही में usa fda ने भी इसे मान्यता दे दी है कि ईसबगोल की भूसी कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार है। 1-2 चम्मच दही के साथ नियमित इसका सेवन करें। 
मेथी दाना में सैपोनिन पाया जाता है जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने का काम करता है और इसके अंदर मौजूद फाइबर हमारी फैट को कम करने का काम करती है। 1-2 चम्मच मेथी के दाने पानी में भिगों दें और नाश्ते के तुरंत बाद या पहले इसका सेवन करें। 
आंवले में विटामिन सी और एंटी-ऑक्सीडेंट्स भरपूर मात्रा में होता है। ये कोलेस्ट्रॉल को तो कम करता ही है साथ ही नसों में आई सख्ती को नर्म करता है और शरीर में लचीलापन भी बढ़ाता है। 1-2 आंवले का मुरब्बा सुबह खाली पेट खायें।  

कोलेस्ट्रॉल कम करने की कौनसी एक्सरसाइज करें

सिर्फ घरेलू उपाय ही कुछ नहीं करेंगे कोलेस्ट्रॉल को कम करने में। इसके लिए थोड़ा शारीरिक व्यायाम करना भी आवश्यक है। क्यूंकि जो लोग सारा दिन बैठे रहते हैं, कोई शारीरिक मेहनत का कार्य नहीं करते, उन्हें ही कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की समस्या होती है। आइये जानते हैं कुछ आसन और व्यायाम।

  • रनिंग करें या पैदल चलें
  • स्विमिंग भी बहुत लाभकारी है
  • डांसिंग करें
  • रस्सी कूदना भी है उपयोगी
  • स्क्वाट्स और प्लान्क भी है फायदेमंद
  • एक ही जगह पर कूदना भी लाभकारी है
  • योगासनों में सूर्यनमस्कार बहुत उपयोगी है
  • अर्ध मत्स्येन्द्रासन काफी लाभकारी है
  • प्राणायाम में कपालभाति, भस्त्रिका और अनुलोम-विलोम हैं उपयोगी

कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए क्या खाना चाहिए

यदि हम सिर्फ अपने खान-पान पर ही नियंत्रण कर लें तो भी आप अपना कोलेस्ट्रॉल सिर्फ एक महीने के अंदर कम कर सकते हैं। आइये जानते हैं क्या खाना चाहिए –

  • नीम्बू का रस पीएं या किसी भी तरह से उसे आहार में शामिल करें
  • ओट्स का सेवन भी लाभकारी है
  • अखरोट का सेवन करें
  • अलसी के बीज भी गुणकारी हैं
  • ग्रीन टी पीएं
  • हरी पत्तेदार सब्जियां, शलजम और बीन्स का सेवन बहुत उपयोगी हैं
  • फलों में संतरा, मौसमी, अमरुद और पपीता का सेवन करें
  • मिक्स अनाज का सेवन करें जैसे गेहूं, ज्वार, बाजरा, मक्का के आते को मिलाकर रोटी बनाकर खाएं

कोलेस्ट्रॉल कितना होना चाहिए

अब जानिये गुड कोलेस्ट्रॉल और बैड कोलेस्ट्रॉल बॉडी में कितनी मात्रा में होना चाहिए।

  1. पूरा कोलेस्ट्रॉल – 170 mg/dl
  2. LDL (बैड कोलेस्ट्रॉल) – 70-130 mg/dl
  3. HDL (गुड कोलेस्ट्रॉल) – 40-60 mg/dl या इससे ऊपर
  4. VLDL (बैड कोलेस्ट्रॉल) – 2-30 mg/dl
  5. TG (ट्राइग्लिसराइड) – 10-150 mg/dl

अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्न – कोलेस्ट्रॉल के कार्य क्या हैं?

उत्तर – कोलेस्ट्रॉल शरीर में 20 तरह के सबसे जरूरी होर्मोनेस बनाता है जैसे टेस्टेरोन, प्रोजेस्ट्रोन, फोलिक्स स्टिमुलेटिंग होर्मोनेस। विटामिन डी भी बनाने में इसका अहम योगदान है।

प्रश्न – कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर क्या नहीं खाना चाहिए?

उत्तर – मांसाहार, फ्राइड फूड्स, बेकरी आइटम्स, ट्रांस फैट्स युक्त भोजन का सेवन करना बंद कर दें। नहीं तो आपका स्वास्थ्य कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के कारण खराब हो जाएगा।

प्रश्न – क्या कोलेस्ट्रॉल में दही खा सकते हैं?

उत्तर – जी हाँ आप कोलेस्ट्रॉल बढ़े होने पर दही का सेवन कर सकते हैं और इसमें 1 चम्मच ईसबगोल की भूसी मिला लें तो सोने पे सुहागा। ये कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए अति उपयोगी है।

इन्हें भी पढ़ें –

घटते प्लेटलेट्स को जल्दी से जल्दी बढ़ाएंगे ये आसान घरेलू नुस्खे

मासिक धर्म के दौरान अधिक रक्तस्त्राव को रोकने के आसान उपाय

- Advertisement -

Exclusive content

Latest article

More article