Home Remedies For High BP

Hypertension: हाई बीपी को तुरंत नियंत्रित करने के 7 घरेलू उपाय | Home Remedies For High BP

Spread the love

Hypertension: हाई बीपी को तुरंत नियंत्रित करने के 7 घरेलू उपाय Home Remedies For High BP

इस पूरी दुनिया में 1 करोड़ से अधिक लोग हाई बीपी की समस्या से झूझ रहे हैं। उच्च रक्तचाप एक जीवनशैली विकार है। इसे पूरी तरह ठीक भी किया जा सकता है और मनुष्य इस समस्या से पूरी तरह निजात पा सकता है। लेकिन जिसे हाई बीपी की समस्या है उसे अपनी जीवनशैली में कुछ परिवर्तन लाने होंगे और इस बीमारी से पूर्णतया छुटकारा (Home Remedies For High BP) पाने के लिए उसे अपना 100% देना होगा।

सिरदर्द को तुरंत ठीक के असदार घरेलू उपाय

Table of Contents

उच्च रक्तचाप क्या है?

हमारा दिल एक प्रेशर से शुद्ध रक्त को पूरे शरीर में पहुंचाता है। फेफड़ों से शुद्ध हुआ रक्त हमारे दिल के लेफ्ट वेंट्रिकल में आता है और फिर उसे रक्त को पूरे शरीर में पहुंचाने के लिए कॉन्ट्रैक्ट होना पड़ता है, इस समय जो प्रेशर रहता है इसे हम ऊपर का ब्लड प्रेशर कहते हैं। रक्त पहुंचाने वाली जो धमनियां हैं वे बहुत लचीली और खुली होती हैं। लेकिन जब इनमें रुकावट आने लग जाए तो हृदय को ज्यादा दबाव लगाना पड़ेगा जिससे बीपी बढ़ जाएगा और इसे ही हम कहते हैं उच्च रक्तचाप।

हाई बीपी के कारण और लक्षण

अनुचित खान-पान और व्यायाम न करना तो सबसे बड़े कारणों में से एक हैं और भी इसके कई कारण हैं और लक्षण भी जानते हैं –

स. कारण लक्षण
1अधिक सिगरेट और शराब पीने सेसिर में भारीपन रहना
2ओबेसिटी एक बहुत बड़ा कारण हैसुबह के समय सिर में दर्द होना
3दिनभर बैठे रहने की आदत की वजह सेनाक में से खून आना
4अधिक नमक का सेवन करनासीने में दर्द होना
5मधुमेह के रोगी को हाइपरटेंशन का अधिक खतरा होता हैहार्ट की जांच करने पर हृदय का आकार बड़ा पाया जाना
6लगातार तनाव और चिंता में रहनाआँखों से धुंदला दिखाई देना
7बढ़ती उम्र के कारणसांस लेने में तकलीफ होना
8अधिक दवाइयों के सेवन से भी रक्तचाप बढ़ता हैथकान और कमजोरी महसूस होना
9अधिक खर्राटे आते हैं तो बीपी ऊपर की ओर जाएगाज्यादा पसीना आना और घबराहट होना
10किडनी या थाइरोइड की कोई समस्या है बीपी बढ़ने का खतरा अधिक हो सकता हैकाइलुरिया की समस्या होना
11वंशानुगत कारणरात में नींद न आना बेचैनी होते रहना

उच्च रक्तचाप को तुरंत नितंत्रित करने के आसान घरेलू नुस्खे (Immediate Control Home Remedies For High BP)

सात्विक आहार और आयुर्वेद के अनुसार दिनचर्या अपनाकर हम अपने बीपी की समस्या को बिल्कुल ठीक (Home Remedies For High BP) कर सकते हैं। इसे तुरंत नियंत्रित करने के कुछ आसान घरेलू नुस्खे भी हैं –

बेल पत्र का काढ़ा करेगा बीपी को कण्ट्रोल

बेल पत्र में बहुत से पोषक तत्व पाए जाते हैं। ये कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने और खून को साफ़ करने में बहुत ही उपयोगी है। इसकी तासीर ठंडी होती है और आयुर्वेद में इसके रस को खाली पेट पीने की सलाह दी जाती है। बीपी को कण्ट्रोल करने के लिए इसका प्रयोग निम्नलिखित तरीके से कर सकते हैं।

प्रयोग का तरीका – बेल के पत्तों को 2 गिलास पानी में अच्छे से उबाल लें। पानी को तब तक उबालें जब तक एक गिलास न रह जाए। फिर इसे छानकर हल्का गर्म होने तक रख लें। उसके बाद खाली पेट इसका सेवन करें। इसके एक घंटे बाद भोजन कर सकते हैं। यदि आपको 15-20 सालों से बीपी की समस्या है तो वो भी ठीक हो जायेगी।

सर्पगंधा का चूर्ण करेगा उच्च रक्तचाप को नियंत्रित

सर्पगंधा में वात-कफ को नियंत्रित करने के सभी गुण मौजूद होते हैं। ये नींद न आने की समस्या और तनाव को कम करने के लिए भी बहुत उपयोगी है। तनाव हाई बीपी की जड़ है इसलिए सर्पगंधा का प्रयोग नियंत्रित करने के लिए इस प्रकार करें।

प्रयोग का तरीका – सुबह 2 ग्राम सर्पगंधा का चूर्ण गुनगुने पानी के साथ लें। इससे उच्च रक्तचाप को कण्ट्रोल (Home Remedies For High BP) करने में काफी मदद मिलेगी।

दालचीनी भी रक्तचाप को नियंत्रित करने में है लाभकारी

वजन को घटाने, इम्युनिटी बढ़ाने और डायबिटीज को नियंत्रित करने के साथ साथ बीपी को कण्ट्रोल करने में भी दालचीनी का उपयोग करना बहुत ही फायदेमंद है। आइये जानते हैं इसे कैसे प्रयोग करें।

प्रयोग कैसे करें – आधा चम्मच दालचीनी को एक चम्मच शहद में मिलाकर अच्छे से मिक्स कर लें और ऊपर से हल्का गुनगुना पानी पी लें। इसके एक घंटे तक कुछ न खाएं।

लहसुन की कली करेगी उच्च रक्तचाप को नियंत्रित

लहसुन में ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो हमारे शरीर के लिए बहुत ही उपयोगी होते हैं। इसमें एलिसिन और मैगनी नामक औषधीय तत्व होते हैं जो कोलेस्ट्रॉल को कम करते हैं। साथ ही यह खून के प्रवाह को भी अच्छा करता है जिससे हाई बीपी की समस्या को दूर करने में लाभ (Home Remedies For High BPमिलता है।

प्रयोग का तरीका – सुबह दो कलियाँ लहसुन की छिलकर खाली पेट इनका सेवन करने से बीपी को कण्ट्रोल करने में मदद मिलती है।

छोटी इलाइची भी करती है बीपी को कण्ट्रोल

छोटी इलाइची वात नाशक है। मुंह की दुर्गन्ध दूर करने के लिए तो हम इसका उपयोग करते ही हैं लेकिन इसमें मोजूद मैग्नीशियम और पोटैशियम हमारे शरीर में रक्त संचार को सामान्य बनाये रखता है और रक्तचाप को नियंत्रित रखने में मदद करता है।

प्रयोग कैसे करें – सुबह-शाम २ इलाइची के बीज निकालकर गुनगुने पानी के साथ सेवन करने से उच्चरक्तचाप नियंत्रित होता है।

प्राणायाम हाई बीपी को जड़ से खत्म कर देगा

अनुलोम-विलोम, भस्त्रिका, कपालभाति इन तीनों प्राणायाम को धीरे-धीरे करना है। आपकी हाई बीपी की समस्या जड़ से खत्म हो जायेगी। साथ ही आप ध्यान योग अवश्य करें क्यूंकि इससे स्ट्रेस कम होगा जो एक बड़ी वजह है हाइपरटेंशन की।

एक्सूप्रेशर पॉइंट से कण्ट्रोल होगा उच्च रक्तचाप
एक्सूप्रेशर पॉइंट से कण्ट्रोल होगा उच्च रक्तचाप

हाई ब्लड प्रेशर होने पर जीवनशैली में क्या बदलाव लाएं

देखिये यदि हम अपनी जीवनशैली में बदलाव ले आते हैं तो हम इस समस्या को पूर्णतया ठीक करने में कामयाब हो सकते हैं। आइये जानते हैं क्या बदलाव लाने चाहिए –

  • धूम्रपान और अल्कोहल का बिल्कुल त्याग कर दें
  • नमक का सेवन कम से कम करें
  • 20-25 मिनट शारीरिक व्यायाम अवश्य करें
  • तला-भुना और जंक फ़ूड न खाएं
  • सुबह उठकर सैर पर जरूर जाएँ
  • अपने वजन को न बढ़ने दें
  • सुबह उठकर पानी जरूर पीएं
  • फलों का रस और सलाद का जरूर सेवन करें
  • अखरोट और बादाम भी जरूर खाएं
  • क्रोध करने से बचें क्यूंकि ये बीपी को बढ़ाता है
  • दाल या सब्जी एवं सलाद पर ऊपर से नमक न डालें
  • जहाँ तक हो सके सात्विक भोजन ही करें
  • योग, ध्यान और प्राणायाम अवश्य करें

हाई बीपी के बारे में कुछ गलतफहमियां ( Some Myths About High Blood Pressure in Hindi )

हाई बीपी को साइलेंट किलर भी माना जाता है। यदि समय पर इसका उपचार नहीं किया जाता तो यह जान जोखिम में डाल देता है। आइये जानते हैं कुछ मिथकों के बारे में –

मिथ 1 – हाइपरटेंशन कोई गंभीर रोग नहीं है।

मिथ 2 – यदि परिवार में पहले किसी को है तो ये तो हमें होगा ही। हम इसमें कुछ नहीं कर सकते। ये भी मिथक है।

मिथ 3 – उम्र बढ़ने के साथ हाई बीपी होगा ही होगा। ऐसा भी नहीं है, यदि आप अपनी जीवनशैली अच्छे ढंग से जीते हैं तो ऐसा नहीं होगा।

मिथ 4 – हाइपरटेंशन है तो कोई न कोई लक्षण जरूर दिखाई देंगे। लेकिन हमेशा ऐसा नहीं होता।

मिथ 5 – जो लोग ये सोचते है कि वे नमक कम खाते हैं और उन्हें हाई बीपी नहीं हो सकता तो ये भी गलत धारणा है।

मिथ 6 – सिर्फ पुरुषों को ही हाई बीपी की समस्या होती है। यह भी एक बहुत बड़ा मिथ है।

कुछ सामान्य प्रश्नोत्तर

प्रश्न – हाई ब्लड प्रेशर में कौनसा फल खाना चाहिए?

उत्तर – तरबूज और अनार हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में रामबाण हैं। इसलिए इन दोनों फलों को जरूर खाएं।

प्रश्न – ब्लड प्रेशर कितना होना चाहिए?

उत्तर – 120/80 नार्मल ब्लड प्रेशर है।

प्रश्न – हाई ब्लड प्रेशर में चाय पीना चाहिए या नहीं?

उत्तर – देखिये अधिक मात्रा में चाय न पीएं और खाना खाने के बाद तो बिल्कुल भी चाय का सेवन न करें क्यूंकि इससे ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है। लेकिन पूरे दिन में यदि एक कप चाय पी रहे हैं तो ठीक है इससे नुकसान नहीं होगा।

प्रश्न – हाई ब्लड प्रेशर में दही खाना चाहिए या नहीं?

उत्तर – जी हाँ, दही का सेवन उच्च रक्तचाप में फायदेमंद है। बस ध्यान इतना देना है कि इसके ऊपर नमक या चीनी न डालें।

इन्हें भी पढ़ें –

सर्दियों में हो जाते हैं हाथ-पैर ठंडे और नहीं होते कम्बल में भी गर्म तो अपनाइये ये आसान नुस्खे

युवा क्यों हो रहे हैं आजकल हृदयरोगों का अधिक शिकार जानिये विस्तार से


Spread the love

1 thought on “Hypertension: हाई बीपी को तुरंत नियंत्रित करने के 7 घरेलू उपाय | Home Remedies For High BP”

  1. Pingback: आँखों की रोशनी बढ़ाने और चश्मा हटाने के जबरदस्त प्राकृतिक और घरेलू उपाय | 5 Home Remedies for Improving Eyesight in Hindi - घरेलू

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!