Gharelu Upay for Cough Fever & Sardi Hindi

Viral Flu: सर्दी-जुकाम, बुखार और खांसी से हो गए हैं परेशान तो अपनाएं ये आसान घरेलू उपाय | 7 Gharelu Upay for Cough Fever & Sardi Hindi

Spread the love

Viral Flu: सर्दी, बुखार और खांसी से हो गए हैं परेशान तो अपनाएं ये आसान घरेलू उपाय Gharelu Upay for Cough Fever & Sardi Hindi

ठंड का मौसम आते ही सबसे पहले सर्दी-जुकाम का डर सताने लगता है। ये मौसम बदलने के साथ लगभग हर व्यक्ति को तोहफे के रूप में मिलता है और जिनकी इम्युनिटी कम होती है उन्हें तो समय-समय पर ये समस्या होती रहती है। नाक बहना, आँखें लाल होना, गले में खराश और हल्का बुखार ये सब इंसान को असहज महसूस कराती हैं जिससे काम में मन नहीं लगता। इन समस्याओं को दूर करने के लिए बहुत ही असरदार और आसान घरेलू उपाय(Gharelu Upay for Cough Fever & Sardi Hindi) हैं लेकिन उससे पहले हम जानेंगे कि सर्दी-जुकाम और बुखार किन कारणों से होता है और इसके लक्षण क्या हैं।

टाइफाइड बुखार में क्या खाएं और क्या न खाएं। जानिये पूरा डाइट प्लान

Table of Contents

सर्दी-जुकाम और बुखार के कारण और लक्षण

ज्यादातर मौसम बदलने पर या इम्युनिटी के अधिक कमजोर होने पर ये समस्या इंसान को घेर लेती है। इसके अन्य कई कारण और लक्षण हो सकते हैं –

सर्दी-जुकाम और बुखार के कारण और लक्षण

रामबाण घरेलू उपाय जो सर्दी-जुकाम और बुखार को जड़ से खत्म कर देंगे (Gharelu Upay for Cough Fever & Sardi Hindi)

योग और प्राणायाम के अलावा कुछ ऐसे जबरदस्त घरेलू नुस्खे हैं जो सर्दी, खांसी और बुखार को बिल्कुल ठीक करने का दम रखते हैं।

अदरक, काली मिर्च और तुलसी का प्रयोग करेगा सर्दी-खांसी और बुखार को दूर

अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं। मैं तो ये भी कहना चाहूंगा कि स्वस्थ व्यक्ति को भी अदरक का सेवन अवश्य करना चहिए। तुलसी और काली मिर्च में भी सर्दी-खांसी को दूर करने वाले सभी गुण मौजूद होते हैं।

कैसे करें प्रयोग – अदरक(1-2 इंच का टुकड़ा), काली मिर्च(3-5 दाने) और तुलसी(5-7) पत्तियां 1 कप पानी में 5 मिनट के लिए उबालें और बाद में छानकर इसे पी लें। आप चाहे तो इसमें थोड़ा-सा गुड़ भी मिला सकते हैं। दिन में 2 बार सुबह-शाम इस काढ़े का अवश्य सेवन करें।

हल्दी और शहद का प्रयोग करेगा हर किस्म के फ्लू को दूर

शहद हमारे गले के लिए बहुत ही उपयोगी होती है और गले को तर भी करती है। इसके साथ हल्दी एक मजबूत इम्युनिटी बूस्टर का काम करती है। ये दोनों साथ मिलकर हर तरह के वायरल फ्लू को ठीक करने में काफी लाभकारी हैं।

कैसे करें प्रयोग – शहद (1 चम्मच), अदरक का रस (2-3 बूँदें), हल्दी (1 पिंच) – इन तीनों को अच्छे से मिलाकर धीरे-धीरे चम्मच के साथ ग्रहण करें। ये गले में स्पर्श होते ही बहुत ही अच्छा एहसास कराएगी और खांसी-जुकाम एवं इसके साथ होने वाले हल्के बुखार को ठीक करेगी। दिन में किसी भी समय एक बार ले सकते हैं।

लहसुन का सेवन करेगा सर्दी-जुकाम को दूर

लहसुन में एंटी-वायरल गुण पाए जाते हैं जो किसी भी प्रकार के वायरस से लड़ने में मदद करते हैं। इसके साथ लहसुन पाचन तंत्र और इम्युनिटी को भी मजबूत करता है क्यूंकि इसमें पर्याप्त मात्रा में विटामिन बी और सी मौजूद होते हैं।

प्रयोग का तरीका – सोंठ(1/4 चम्मच) और घी(1/4 चम्मच) में लहसुन का रस(1/2 चम्मच) मिलाकर सेवन करें। ऐसा दिन में 2 बार करने से जुकाम-खांसी और सर्दी जल्दी ही ठीक हो जायेगी।

धनिया पाउडर और शहद का मिश्रण करेगा सर्दी-खांसी को ठीक

धनिया में विटामिन ए और सी भरपूर मात्रा में होता है। इसके अंदर इम्युनिटी बढ़ाने और पाचन तंत्र को दुरुस्त करने के सभी लाभकारी गुण मौजूद होते हैं। शहद में आप जानते ही हैं कि गले को एक सूथिंग एहसास दिलाती है। इन दोनों का मिश्रण आपको हर प्रकार के वायरस से बचाता है।

प्रयोग का तरीका – एक चम्मच धनिया पाउडर को एक बड़े कप में डालकर उबाले लें, आप इसमें अदरक भी डाल सकते हैं, इससे बेहतर परिणाम मिलेगा और उबालने के बाद उसमें एक चम्मच शहद मिला लें और घूंट-घूंट करके पीएं। नाक से पानी बहना, कमजोरी महसूस होना और खांसी में तुरंत आराम मिलेगा।

सोंठ, आंवला और मुलहठी के चूर्ण से होगा वायरल फ्लू का अंत

सोंठ, काली मिर्च, आंवला और मुलहठी – इन चारों को बराबर मात्रा में लेकर चूर्ण तैयार कर लें। फिर इस चूर्ण को सुबह-शाम गर्म पानी के साथ सेवन करें। 7 दिनों के प्रयोग के बाद आपको आश्चर्यजनक लाभ होगा।

भाप लें

सर्दी-जुकाम में नाक का बंद हो जाना एक आम बात है और रात को कई बार सांस लेने में तकलीफ होती है एवं मुंह से सांस लेने की नौबत आ जाती है। इसलिए इस स्थिति में भाप लेना बहुत जरूरी हो जाता है।

कैसे लें भाप – इसके लिए आपको तेजपात, छोटी इलाइची और मंगरैला को पानी में डालकर अच्छे से उबाल लें। इसके बाद इससे निकलने वाली भाप को सूंघें। बंद नाक तुरंत खुलेगा और नींद भी गहरी आएगी।

मुनक्का करेगा खांसी और बुखार को जड़ से खत्म

मुनक्का, अदरक, काकड़सिंगीं और मिश्री – इन सबको समान भाग में लेकर, पीसकर तिल के तेल में मिलाकर पेस्ट सा बना लें और ऊँगली की मदद से दिन में 3 बार चाटें। खांसी, बुखार और जुकाम को जड़ से खत्म करेगा ये उपाय।

सर्दी-जुकाम में किन चीजों का सेवन करना चाहिए

वायरल फ्लू होने पर हमें खाने-पीने में कुछ सावधानी बरतनी चाहिए। यदि हम खाने-पीने में नियंत्रण करेंगे तो ये बिना किसी दवाई के 5-7 दिनों में अपने-आप ही ठीक हो जाता है।

  • हल्का सुपाच्य भोजन करें
  • यदि सर्दियों में सर्दी-खांसी की समस्या है तो गर्म और स्निग्ध चीजों का सेवन करना चाहिए
  • नहाने और पीने का पानी भी गर्म होना चाहिए
  • बलगम यदि ज्यादा है तो बैंगन, अरहर और मूंग का सूप भी फायदेमंद होता है
  • फलों में चीकू, संतरा और पपीता खाना अच्छा है
  • गर्मी के मौसम में यदि जुकाम हुआ है तो जौ और शालिचावल का सेवन हितकर है
  • अजवाइन और जीरे का सेवन भी लाभकारी है

सर्दी-जुकाम में किन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए

अब जानते हैं कि किन पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए –

  • तला-भुना भोजन और मैदे से बना खाद्य पदार्थ न खाएं
  • डिब्बा बंद जूस का सेवन भूलकर भी न करें
  • ठंडी चीजें जैसे आइसक्रीम और कोल्डड्रिंक्स आदि का सेवन न करें
  • मिठाई भी न खाएं
  • दूध से बने पदार्थों का सेवन भी न करें, ये कफ को बढ़ाते हैं
  • शारीरिक श्रम और मैथुन करना छोड़ दें
  • ऊँची आवाज़ में बात भी न करें

चिकित्सक को कब दिखाएं

5-7 दिनों के बाद घरेलू उपायों का प्रयोग करने के बाद भी यदि आपको लक्षण दिख रहें हैं और बुखार बढ़ गया है तो आपको तुरंत किसी अच्छे आयुर्वेदिक चिकित्सक को दिखाना चाहिए।

अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्न – पतंजलि की सर्दी जुकाम की कौनसी आयुर्वेदिक दवा है?

उत्तर – पतंजलि की स्वासरी प्रवाही – 250 ml जिसकी कीमत मात्र rs. 69 है। ये दवा सर्दी-जुकाम को दूर करने के लिए उपयोगी है। लेकिन इसका सेवन किसी अच्छे आयुर्वेदिक चिकित्सक के परामर्श से ही करें।

प्रश्न – कौनसे वायरस के कारण सर्दी-जुकाम होता है?

उत्तर – लगभग 200 प्रकार के वायरस होते हैं जो सर्दी-जुकाम और बुखार के लिए जिम्मेदार होते है। इनमें से राइनो वायरस, पैरा-इन्फ्लुएंजा और इन्फ्लुएंजा ए और बी सबसे बड़े कारण हैं बुखार और सर्दी-जुकाम के।

इन्हें अवश्य पढ़ें –

चिकुनगुनिया बुखार के लक्षण, कारण और आयुर्वेदिक उपचार

पीलिया रोग क्या है? जानें इसका घरेलू उपचार


Spread the love

3 thoughts on “Viral Flu: सर्दी-जुकाम, बुखार और खांसी से हो गए हैं परेशान तो अपनाएं ये आसान घरेलू उपाय | 7 Gharelu Upay for Cough Fever & Sardi Hindi”

  1. Pingback: सिरदर्द का अंत तुरंत करने के लिए अपनाएं ये चमत्कारी घरेलू उपाय | 7 Instant Home Remedies for Headache in Hindi - घरेलू नुस्खे - च

  2. Pingback: बच्चों को खांसी और सीने में जकड़न के कारण और घरेलू उपचार | 9 Home Remedies for Baby Cough & Chest Congestion in Hindi - घरेलू नुस्खे - चर

  3. Pingback: सर्दियों में त्वचा के रूखेपन को दूर करने के 9 चमत्कारी घरेलू नुस्खे | Magical Skin Dryness Home Remedies in Hindi - घरेलू नुस्ख

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!