Tuesday, October 4, 2022
Body Healthआँखों की सूजन और थकान को दूर करने के जबरदस्त घरेलू तरीके...

आँखों की सूजन और थकान को दूर करने के जबरदस्त घरेलू तरीके | Eyes Swelling Tiredness Treatment in Hindi

- Advertisement -

आँखों की सूजन और थकान को दूर करने के जबरदस्त घरेलू तरीके Eyes Swelling Tiredness Treatment in Hindi

जब से ऑनलाइन काम ज्यादा बड़े हैं तब से आँखों की समस्याएं भी बड़ी हैं। घंटों मोबाइल और कंप्यूटर स्क्रीन देखते रहने से आँखों में थकान और सूजन एवं जलन की समस्या आम हो गयी है। इसके अलावा प्रदूषण और गलत खान-पान के आँखों में सूजन की समस्या होती है।

लम्बे समय तक यदि ये समस्या बनी रहे तो आँखों की रोशनी पर भी दुष्प्रभाव पड़ता है। इसलिए समय रहते कुछ आसान घरेलू उपायों (Eyes Swelling Tiredness Treatment in Hindi) की मदद से आप आँखों की सूजन और थकान को समस्या को प्राकृतिक रूप से घर पर ही ठीक कर सकते हो।

आँखों में सूजन का कारण (Eyes Swelling Reason in Hindi)

सुबह ज्यादा देर तक सोना भी आंखों में सूजन आने का कारण है। इसके अलावा अन्य कारण भी हैं, आइये जानते हैं –

Eyes Swelling Reason in hindi

आँखों में सूजन और थकान के लक्षण (Eyes Fatigue Symptoms)

आँखों में थकान और सूजन होने पर कई लक्षण देखने को मिलते हैं। आइये विस्तार से जानिये –

स. लक्षण
1 आंखों से आंसू बहना
2 देखने में तकलीफ होना
3 खुजली और जलन होना
4 आँखें लाल होना
5 पलकों में सूजन आना
6 आंखों के आस-पास की त्वचा खराब होना
7 तेज सिरदर्द होना

आंख में सूजन का घरेलू उपचार (Eyes Swelling Tiredness Treatment in Hindi)

आंख में सूजन और दर्द का इलाज करने के लिए आपको कुछ सरल घरेलू नुस्खों को अपनाना चाहिए। इससे यकीनन आपको लाभ मिलेगा।

खीरे का आँखों की थकान दूर करने में लाभ

खीरे में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुण पाए जाते हैं। इसके पतले पतले slices काटकर उन्हें आँखों पर रखें। आँखों की सूजन, जलन और थकान दूर करने में बहुत उपयोगी हैं। इसके साथ ही ये आंखों के नीचे पड़ने वाले डार्क सर्कल्स को भी कम करता है।

आलू के slices से आंखों की सूजन का इलाज

आलू को गोल गोल slices में काट लें और इन्हें 20 मिनट तक आंखों की सूजन वाली जगह पर रखें। 20 मिनट बाद जैसे ही slices हटाएंगे, सूजन में फर्क नजर आएगा।

ठंडा दूध भी है सूजन और थकान दूर करने में उपयोगी

ठंडे दूध में रु डुबो दें और फिर उसे थोड़ा-सा निचोड़कर अपनी आँखों पर रखें। इससे आँखों की सूजन, थकान और जलन में राहत मिलेगी। 20 मिनट तक आँखों पर अवश्य रखें।

अरंडी का तेल

अरंडी के तेल में भी एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-एजिंग गुण मौजूद हैं जो सूजन को कम करने के साथ ही आँखों के आस-पास की झुर्रियों को दूर करने के लिए भी उपयोगी हैं। इसका प्रयोग आप ऊँगली पर castor oil लगाकर हल्के-हल्के मसाज करें या तेल में रुई डुबोकर, थोड़ा नोचोड़े और उसे आँखों के ऊपर 15 मिनट के लिए रखें।

गुलाब जल आँखों की थकान दूर करने में है उपयोगी

गुलाब जल जितना त्वचा के लिए फायदेमंद है उतना ही आपकी आंखों के लिए भी उपयोगी है। आंखों की रोशनी बढ़ाने से लेकर उनकी सूजन और जलन को कम करने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। एक-एक बूँद दोनों आँखों में गुलाब जल की डालें, ठंडक मिलेगी और थकान भी चुटकियों में दूर होगी।

ठंडे चम्मच भी सूजन और थकान को करते हैं दूर

एक बाउल में बर्फ की टुकड़ियां डाल दें और उसमें 4 चम्मच भी डाल दें। 10 मिनट बाद चम्मच ठंडे हो जाएंगे, फिर 2 चम्मचों को निकालकर एक-एक चम्मच अपनी दोनों आंखों पर रखें। जब ये चम्मच गर्म हो जाएँ और अगले दो चम्मचों से ऐसा करें। 15-20 मिनट की इस प्रक्रिया से आपकी आँखों की सूजन और थकान दोनों दूर हो जाएँगी।

पानी पर्याप्त पीएं

कई बार पानी कम पीने की वजह से भी शरीर में डिहाइड्रेशन हो जाती है जिसका असर आँखों में दिखता है। आँखें थकी हुई और सूजी हुई लगती हैं, इसलिए पानी पर्याप्त मात्रा में पीएं। इसके अलावा मौसमी फलों का रस पीएं और ठंडे पानी के छींटे आँखों पर मारें।

आँख के नीचे सूजन के लिए अच्छा क्रीम बताये

वैसे तो उपर्युक्त घरेलू नुस्खे आँखों की सूजन और थकान को कम करने के लिए काफी उपयोगी हैं लेकिन जिन लोगों के पास समय का अभाव है, उनके लिए क्रीम बता देते हैं।

mcaffeine under eye cream – इसके अंदर विटामिन इ, और बादाम का तेल भी है जिसकी मदद से आँखों के नीचे पड़ने वाले काले घेरे और सूजन कम करने में ये बहुत उपयोगी है।

निष्कर्ष

आँखों का मामला हमेशा संवेदनशील होता है। इसलिए किसी भी उपाय (Eyes Swelling Tiredness Treatment in Hindi) को प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सम्पर्क जरूर करें और उनकी सलाह से घरेलू उपचारों का प्रयोग करें।

अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्न – आंखों के ऊपर सूजन क्यों होती है?

उत्तर – आंखों के ऊपर सूजन होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं जैसे ज्यादा देर सोये रहना, अधिक रोना, किसी संक्रमण की वजह से या tissues में पानी जमा हो जाने के कारण।

- Advertisement -

Exclusive content

Latest article

More article