Saturday, May 28, 2022
Body Healthकाइलुरिया क्या है? इसके कारण, लक्षण और घरेलू उपचार | Best Chyluria...

काइलुरिया क्या है? इसके कारण, लक्षण और घरेलू उपचार | Best Chyluria Treatment at Home in Hindi

- Advertisement -

चिलुरिआ क्या है? इसके कारण, लक्षण और घरेलू उपचार Chyluria Treatment at Home in Hindi

पेशाब का रंग देखकर मनुष्य के स्वास्थ्य का अंदाज़ा लगाया जा सकता है। यदि पेशाब बहुत अधिक सफेद या दूधिया रंग का हो तो समझिये इसमें chyle की मात्रा बढ़ गयी है। काइल एक दूधिया रंग का शरीर का तरल पदार्थ है जोसमें लिम्फ और emulsified वसा या फैटी एसिड होते हैं। यह वसायुक्त खाद्यपदार्थों के पाचन के दौरान छोटी आंत में बनता है। कुछ उपायों के माध्यम से आप chyluria (chyluria treatment in hindi) को ठीक कर सकते हैं।

यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन का कारण और इसका घरेलू उपचार क्या है

काइलुरिया क्या है? (chyluria in hindi)

यूरिन के अंदर काइल का पाया जाना (chyle in urine in hindi) काइलुरिया कहलाता है। हमारे शरीर में लिम्फस होते हैं जो हमारी इम्युनिटी को बढ़ाने में उपयोगी होते हैं। जो लिम्फ फ्लुइड्स हैं वो लिम्फेटिक के माध्यम से पूरे शरीर में फ्लो करता है। इस लिम्फेटिक चैनल में कहीं भी कोई ब्लॉकेज हो जाए और वहां से लिम्फेटिक फ्लुइड्स निकलने लगे तो उस वजह से काइलुरिया हो सकता है।

काइलुरिया के कारण और लक्षण (what causes chyluria)

किन कारणों से chyluria होता है और इसके लक्ष्ण क्या हैं –

स. कारण लक्षण
1wuchereria bancrofti एक पैरासिटिक इन्फेक्शन है, इसके कारण काइलुरिया की समस्या अधिक होती है कमजोरी और थकान होना
2राजयक्ष्मा (tuberculosis) की वजह से कई बार पेशाब में खून भी आ जाता है
3ट्यूमर के कारण बुखार आना
4लिम्फेटिक सिस्टम में सूजन होना पैरों में सूजन हो जाना
5पेट की किसी सर्जरी के कारण पेशाब का रंग दूध जैसा होना
6प्रेगनेंसी के दौरान वजन का कम हो जाना
7दवाइयों के साइड-इफ़ेक्ट की वजह से वैसे तो ये पेनलेस होता है लेकिन फ्लूइड का थक्का जमने से जैसे किडनी स्टोन में दर्द होता है, वैसे ही इसमें भी होता है

काइलुरिया का घरेलू उपचार (Chyluria Treatment at Home in Hindi)

देखिये काइलुरिया के उपचार में हमें घरेलू नुस्खों के साथ योग की भी सहायता लेनी होगी। आइये जानते हैं आयुर्वेदिक घरेलू उपचार और कुछ योग भी –

आहार में प्रोटीन की मात्रा बढ़ा दें क्यूंकि एल्ब्यूमिन chyle के रूप में बाहर निकल जाता है, उसे दोबारा बनाने के लिए प्रोटीन अति उपयोगी है। 
ज्यादा से ज्यादा आराम ही करें। 
कपालभाति क्रिया योग अवश्य करें क्यूंकि यदि ट्यूमर के कारण काइलुरिया की समस्या हुई है तो किसी भी प्रकार के गुल्म को तोड़ने में कपालभाति रामबाण है। कपालभाति पेट और गुर्दे सम्बन्धी रोगों को दूर करने में भी उपयोगी है। 
गोखरू का काढ़ा और देसी घी बराबर मात्रा में लें और घी से आठ गुना गाय का दूध डालकर विधिपूर्वक इस घी का सेवन करें। इससे यदि सफेद मूत्र के साथ रक्त भी आ रहा है तो वो भी ठीक हो जाएगा। 
सर्वांगासन एक बहुत ही उपयोगी आसन है chyluria रोग में। ये प्रमाणित है कि सर्वांगासन से कुछ ही दिनों में इस समस्या को ठीक किया गया है। 
ककड़ी का बीज, खीरे का बीज, बर्रे का बीज, अरूसे की पत्ती और केसर - इनका चूर्ण बनाकर मुनक्के के रस से पिलाना चाहिए। यह योग काइलुरिया के साथ-साथ सभी प्रकार के मूत्र रोगों में उपयोगी है। 
सिंघाड़े का काढ़ा ठंडा करके शहद मिलाकर पीने के लिए देना चाहिए। 
वाजीकरण औषधियां जैसे शिलाजीत और अश्वगंधा का प्रयोग भी कर सकते हैं परन्तु पहले किसी अच्छे आयुर्वेदिक चिकित्सक से परामर्श अवश्य करें। 

कौनसे टेस्ट से पता चलता है कि काइलुरिया हुआ है

निम्नलिखित टेस्ट करवाने से पता चल सकता है कि यूरिन में काइल है कि नहीं –

  • यूरिन टेस्ट
  • ब्लड टेस्ट

काइलुरिया में कैसा खान-पान करें

क्यूंकि काइलुरिया में विटामिन, प्रोटीन्स और लिपिड जैसे पोषक तत्व शरीर से निकलते हैं तो इनकी पूर्ती के लिए लिए अपने आहार पर अधिक ध्यान देना चाहिए।

  • दूध का सेवन करें
  • पानी को अच्छे उबाल लें, फिर उसे छानकर उस पानी को पीएं
  • मीठी दही खाना भी फायदेमंद है
  • गन्न चूसना और उसका रस पीना भी लाभदायक है
  • पुराना शहद का सेवन करना भी उचित रहेगा
  • बादाम, अख़रोट का सेवन करना भी उपयोगी है
  • चावल, आलू और हरी सब्जियां खाना भी उपयोगी है

सामान्य प्रश्न उत्तर

प्रश्न – क्या काइलुरिया का उपचार संभव है?

उत्तर – जी हाँ काइलुरिया का इलाज बिल्कुल संभव है। आयुर्वेद में, होमियोपैथी में और एलॉपथी में इसका उपचार किया जा सकता है। कुछ घरेलू नुस्खे ऊपर भी बताये हैं, पहले आप घर पर इन्हें आजमाकर भी देख सकते हो।

प्रश्न – काइल का रंग क्या है?

उत्तर – काइल ज्यादातर सफेद रंग का होता या हल्का गुलाबी रंग का भी हो सकता है।

इन्हें भी पढें –

पुरुषों के अंडकोषों में सूजन के कारण, लक्षण और घरेलू उपचार

कमर का खिसक गया मणका तो घबराएं नहीं अपनाएँ ये आसान देसी उपाय

- Advertisement -

Exclusive content

Latest article

More article