Black Stool Treatment Home Remedies Hindi

काला मल का घरेलू उपचार, कारण और लक्षण | 7 Black Stool Treatment Home Remedies Hindi

Spread the love

काला मल का घरेलू उपचार, कारण और लक्षण | Black Stool Treatment Home Remedies Hindi

मल का सामान्य रंग गाढ़ा भूरा होता है। परन्तु काला मल सुनने में ही बहुत अजीब लगता है। यदि आपको भी black stool की समस्या है तो इसमें शर्मिंदगी वाली कोई बात नहीं है। आपको इस समस्या को शेयर करना होगा तभी तो आपको इसका हल मिलेगा।

वैसे जरूरी नहीं है कि ये कोई गंभीर समस्या का संकेत हो। ये आयरन की मात्रा ज्यादा लेने की वजह से भी हो सकता है और जामुन, blueberries आदि खाने के कारण भी। इस लेख में मैं आपको black stool के कारण, लक्षण और घरेलू उपचार बताऊंगा।

मोटापे से परेशान हैं तो ये उपाय अपनाकर 1 महीने में ही अपने वजन को कर लेंगे कम

काला मल वास्तव में क्या है?

साधारण शब्दों में कहें तो काला मल एक ऐसी स्थिति है जिसमें मल का रंग नार्मल रंग से काले रंग में बदल जाता है। Black Stool के कई कारण हो सकते हैं जैसे डार्क रंग की कुछ चीजें खाने से जैसे जामुन, चकुंदर और पालक आदि। तो इस स्थिति में 2-3 दिन में काले मल की समस्या ठीक हो जाती है। लेकिन यदि आप ऐसा कुछ नहीं खा रहे और फिर भी नियमित ये समस्या बनी हुई है तो चिंता का विषय है।

बवासीर को तुरंत ठीक करेंगे ये आयुर्वेदिक उपाय

काले मल के कारण

आइये इसके कारण जानते हैं –

स. कारण
1 किसी गंभीर बीमारी के कारण
2 खाद्य पदार्थ जैसे चकुंदर, जामुन और आयरन सप्लीमेंट
3 ज्यादा मिर्च-मसाले वाला भोजन करने से
4 एंटासिड्स दवाएं ले रहे है तो इस वजह से भी
5 मल्टी-विटामिन्स की गोलियां खाने से
6 पेट में अलसर होने की वजह से
7 पेट में घाव या सूजन
8 जिगर की बीमारी में
9 आँतों में खून की कमी या उभरी हुई नसें

चिंता कब करें? काले मल के लक्षण

जब आपको काले मल के साथ-साथ ये लक्षण भी दिखाई दें तो आपकी चिंता बढ़ सकती है और आपको तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

black stool symptoms hindi

काला मल का घरेलू उपचार (Black Stool Treatment Home Remedies Hindi)

काले मल को रोकने और उससे बचाव के लिए घरेलू उपाय जो आपको जरूर अपनाने चाहिए –

पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं
फाइबर युक्त आहार का सेवन करें जैसे साबुत अनाज, फलियां, दालें और फल
अनार के फल की छाल, सोंठ और रक्तचंदन को समान मात्रा में लें और इनका काढ़ा तैयार कर लें, फिर इसमें थोड़ा गाय का घी मिला लें। इससे भी काला मल आना बंद हो जाता है।
दारुहल्दी, दालचीनी, यवासा और सोंठ, इसके समभाग का काढ़ा गाय का घी मिलाकर पीएं। black stool धीरे-धीर अपने नार्मल रंग में आना शुरू हो जाएगा।
दही, मक्खन आदि का सेवन अवश्य करें।
यदि पेट में अल्सर के कारण काला मल आ रहा है तो मुलहठी और शहद के सेवन से भी इस समस्या में काफी आराम मिलता है।
इस स्थति में अधिक मात्रा में भोजन न करें।

Black Stool की जांच

इसके लिए निम्लिखित टेस्ट किये जाते हैं डॉक्टर द्वारा। आइये जानते हैं –

  1. FOBT टेस्ट
  2. ब्लड टेस्ट्स – CBC, ESR और CRP
  3. Colonscopy से आपके anal क्षेत्र का examine किया जाता है
  4. पेट का अल्ट्रासाउंड करेंगे
  5. X-ray भी जरूरी है
  6. कैंसर की जांच के लिए बेरियम स्टडीज और biopsy भी करवाई जा सकती है

निष्कर्ष

यदि आप काले मल की समस्या को हल्के में ले रहे हैं तो ये आपके जीवन की सबसे बड़ी गलती हो सकती है। निरंतर कई दिनों तक black stool का आना खतरे की निशानी है। उपर्युक्त उपाय यदि करेंगे तो ये समस्या होगी ही नहीं और हाँ यदि हो गयी है तो पहले चिकित्सक से सम्पर्क करें और फिर कोई उपाय प्रयोग में लाएं। धन्यवाद।

दिमाग में आने वाले कुछ अन्य प्रश्न

प्रश्न – क्या काले मल का इलाज संभव है?

उत्तर – जी अवश्य संभव है। इसके लिए बस चिकित्सक को उस कारण को पकड़ना होगा कि किस वजह से काला मल आ रहा है। बस उसके बाद उसका इलाज हो जाएगा। आयुर्वेद, होमियोपैथी और एलोपैथी तीनों में ही इसका इलाज सम्भव है।

प्रश्न – हमें डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

उत्तर – जब आपको पेट में दर्द, उल्टी, जी मचलाना और चक्कर आने लग जाएँ तो तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर से मिलें और इलाज शुरू कराएं।

प्रश्न – सात किस्म के मल कौनसे हैं?

उत्तर –
पहला – अलग सख्त गांठे जैसे बकरी की मेमने होती हैं जो मुश्किल से गुजरती है और अधिकतर काले रंग की होती हैं।
दूसरा – लम्बा, मोटा लिंडा जैसे सॉसेज होता है
तीसरा – ये भी सॉसेज की तरह ही होता है लेकिन इसकी surface पर दरारें होती हैं
चौथा – चिकना और मुलायम (सांप की तरह)
पांचवा – पूरी तरह से पानी की तरह (दस्त)
छठा – सिर्फ नरम बूँदें
सातवां – ज्यादा पतला थोड़ा सख्त (एक किस्म के दस्त)

इन्हें भी पढ़ें –

गुदा में खुजली के कारण, लक्षण और घरेलू उपचार

गर्मियों में घमोरियों से बचने के आसान और चमत्कारी उपाय

पीले दांतों को सफेद बनाएं इन प्राकृतिक तरीकों से


Spread the love