Spondylolisthesis Home Remedies in Hindi

कमर का मणका खिसकना (Spondylolisthesis) ठीक करें इन आसान घरेलू उपायों से | Spondylolisthesis Home Remedies in Hindi

Spread the love

कमर का मणका खिसकना (Spondylolisthesis) ठीक करें इन आसान घरेलू उपायों से Spondylolisthesis Home Remedies in Hindi

क्या आपका भी कमर का मणका खिसक गया है? आखिर किस वजह से मणका खिसक जाता है? इसके क्या लक्षण होते हैं? इन सभी बातों को विस्तार से इस लेख में बताया जाएगा।

Spondylolisthesis क्या है?

Spondylolisthesis में कमर का मणका आगे को खिसकता है। इसमें व्यक्ति ज्यादा देर तक खड़ा नहीं रह सकता। इसमें कमर में अधिक रहता है। यदि बाहर आने वाली नस के ऊपर दबाव रहेगा तो पैर में भी दर्द होता है।

सिर पर गैस क्यों चढ़ती है। इसके क्या कारण हैं?

कमर के मणका खिसकने का खतरा किन लोगों को ज्यादा होता है?

आइये जानते हैं किन्हें इस बीमारी का खतरा ज्यादा है –

1अधिक भार उठाने वाले
जो लोग जरूरत से अधिक भार उठाते हैं उन्हें इस रोग का अधिक खतरा रहता है क्यूंकि वजन उठाते समय vertebra में फिसलन हो जाती है जिसकी वजह से कमर दर्द शुरू हो जाता है।
2जेनेटिक्स – कुछ बच्चों का जन्म के साथ vertebra पतले हिस्से का होता जिन्हें interarticularis कहा जाता है। जिस वजह से इन पतले हिस्सों में फ्रैक्चर और फिसलने की संभावना अधिक होती है।
3बढ़ती उम्र –जैसे जैसे उम्र बढ़ती है, रीढ़ में लचक कम होने लगती है जिसकी वजह से vetebra कमजोर हो जाते हैं। 50 की उम्र के बाद इसका ज्यादा खतरा रहता है।

घरेलु उपाय जिनसे मणका खिसकना ठीक होगा

80-90% केसेस में घरेलू उपाय कागर हैं बाकी 10 प्रतिशत के लिए सर्जरी ही आखरी विकल्प होता है। आइये जानते हैं घरेलू उपचार –

1. कब्ज़ न होने दें

कब्ज़ होने से आपका वजन बढ़ने लगता है जो रीढ़ के लिए हानिकारक होता है। इससे कमर के मणकों पर भार पड़ता है जिससे वे अपने स्थान से फिसल जाते हैं।

यदि आपको अधिक कब्ज़ की शिकायत है तो रात को सोते समय 2 या 3 माशा (तोला) सूखे आंवले का चूर्ण दूध के साथ लें। कब्ज़ की शिकायत दूर होगी।

2. आराम करें

आपको अपनी शारीरिक गतिविधियों पर कुछ प्रतिबंध लगाना चाहिए जैसे भारी समान उठाना, ज्यादा देर खड़े रहना या अधिक चलना-फिरना आदि।

आपको ज्यादा से ज्यादा समय आराम करना चाहिए और physiotherapist के कहे अनुसार कुछ एक्सरसाइज करनी चाहिए।

3. हरसिंगार के पत्ते

हरसिंगार के 5 पत्ते कूटकर 1 गिलास पानी में उबाल लें और जब आधा गिलास पानी बच जाए तो उसे छानकर पीएं।

हरसिंगार के पत्तों में एंटी-इन्फ्लामेट्री गुण होते हैं जो किसी भी प्रकार के दर्द और सूजन को दूर करने में सहायक होते हैं।

4. वात-वर्धक भोजन न खाएं

वात-वर्धक भोजन मायने बाई-बादी वाली चीजें जैसे राजमा, लोबिया, छोले आदि का सेवन न करें। क्यूंकि वायु का स्वाभाव ऐसा ही है वे एक जगह टिकती नहीं और जब वे शरीर में ज्यादा हो जाए तो दर्द का कारण बनती है।

5. योगासन या स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज

योगासन में ऐसे कई आसन है जो आपकी कमर की अच्छी मसाज करेंगे और आपकी कमर की स्टिफनेस कम होगी। साथ ही दर्द में भी लाभ मिलेगा। आप किसी अच्छे योगाचार्य से सम्पर्क कर इन आसनों को करना शुरू कर सकते हैं।

कुछ अन्य स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज भी होती हैं जो फिजियो थेरेपिस्ट द्वारा कराई जाती हैं। कहते हैं 80% केसेस में ये एक्सरसाइज कारगर हैं। आपको किसी अच्छे फिजियो थेरेपिस्ट की देखरेख में एक्सरसाइज करनी हैं स्वयं से न करें अन्यथा नुकसान हो सकता है।

Spondylolisthesis के लक्षण –

आइये जान लेते हैं कुछ आम दिखने वाले लक्षण –

  • कमर के निचले हिस्से में दर्द और टांग में दर्द
  • सियाटिका, जिसमें हिप्स में तेज दर्द होता है और कमर के निचले हिस्से से जाता हुआ thighs और legs तक पहुंचता है
  • चलते समय चाल का बदल जाना
  • कमर के निचले हिस्से में कमजोरी, पैरों में चुभन महसूस होना
  • posture का खराब होना

निष्कर्ष

आप भी उपर्युक्त तरीकों को आजमाकर कमर के मणके खिसकना का खतरा कम कर सकते हो। यदि आपने इनमें से कोई उपाय पहले अपनाया है तो कमेंट बॉक्स में जरूर शेयर करें। उम्मीद करता हूँ जानकारी पसंद आई होगी। धन्यवाद।

प्रश्न- कमर का मणका खिसकना क्या आम बात है?

4 से 6 प्रतिशत एडल्ट्स में कमर का खिसकना देखा गया है। उम्र बढ़ने के साथ इसका खतरा अधिक हो जाता है। हो सकता है आपको कोई लक्षण न दिखे लेकिन कमर का मणका खिसका हो।

प्रश्न- सर्जरी की कब जरूरत पड़ती है?

उत्तर- वैसे तो बहुत से लोग एक्सरसाइज और योग की मदद से ठीक हो जाते हैं और कुछ दवाइयों के माध्यम से भी। परन्तु जब दर्द हद से ज्यादा बढ़ जाए और सारे तरीके अपनाने के बाद भी लक्षण नहीं जाएँ तो सर्जरी ही आखिरी उपाय है।

प्रश्न- सर्जरी के बाद क्या Spondylolisthesis दोबारा हो सकता है?

उत्तर- सर्जरी के बाद डॉक्टर आपको आपकी बैक को कैसे मजबूत रखना है, इसकी कुछ एक्सरसाइज बताएंगे और डाइट में कुछ changes करेंगे, जिन्हें फॉलो करने के बाद ये दिक्कत दोबारा नहीं होगी।

प्रश्न- क्या Spondylolisthesis अपने-आप ठीक हो सकता है?

उत्तर- जी अपने-आप तो कुछ भी ठीक नहीं होता। थोड़ा-बहुत चेंज तो लाइफस्टाइल में लाना ही पड़ेगा जैसे रेस्ट करना, भारी वजन न उठाना, बाई-बादी की चीजें न खाना और कुछ हल्का-व्यायाम करते रहना।

इन्हें भी पढ़ें –

सिर पर गैस चढ़ने (Gastric Headache) के कारण और उपचार

भिंडी का सेवन पुरुषों के लिए हैं गुणकारी

थकान, सुस्ती और आलस रहता है तो ये गुणकारी तरीके आपको अवश्य लाभ करेंगे


Spread the love

1 thought on “कमर का मणका खिसकना (Spondylolisthesis) ठीक करें इन आसान घरेलू उपायों से | Spondylolisthesis Home Remedies in Hindi”

  1. Pingback: खाज और खुजली (Ringworm)दाद को जड़ से मिटाने के उपाय | Ringworm Treatment At Home in Hindi - घरेलू नुस्खे - चरक संहिता

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *